पश्चिम बंगाल हिंसा: भाजपा ने की राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में इन दिनों सांप्रदायिक हिंसा हो रही है और इसी बीच भाजपा ने राज्यपाल केशरी नाथ त्रिपाठी के साथ मुलाकात की है। इस मुलाकात के बाद भाजपा ने राज्यपाल से मांग की है कि पश्चिम बंगाल में राष्ट्रपति शासन लगाया जाए। शनिवार को भाजपा ने राज्यपाल से मांग करते हुए कहा कि केन्द्र को तुरंत ही राष्ट्रपति शासन लागू करना चाहिए, क्योंकि राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति बहुत अधिक खराब हो चुकी है।

पश्चिम बंगाल हिंसा: BJP ने की राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग

इसकी पुष्टि खुद प्रदेश भाजपा प्रमुख दिलीप घोष ने की है। उन्होंने राज्यपाल से मुलाकात के बाद संवाददाताओं से कहा कि वह राज्यपाल से मिले और उन्हें राज्य की हालत के बारे में बताया। उन्होंने राज्य में हो रही इस हिंसा के लिए राज्य सरकार को सीधे तौर पर जिम्मेदार ठहराया। वह बोले कि राज्य सरकार राष्ट्र विरोधी तत्वों के सहयोग से कानून व्यवस्था को पूरी तरह से ध्वस्त कर रही है।

ये भी पढ़ें- बशीरहाट हिंसा पर भाजपा विधायक ने दिया भड़काऊ बयान

भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने राज्यपाल से कहा कि उन्होंने केन्द्र सरकार से इस मामले पर बात करने और फिर राष्ट्रपति शासन लागू करने की सिफारिश करने को भी कहा है। उन्होंने आरोप लगाया है कि राज्य सरकार तुष्टिकरण की राजनीति कर रही है।

क्या है मामला?

आपको बता दें कि सोशल मीडिया पर एक युवक ने आपत्तिजनक पोस्ट किया कि उसके बाद पश्चिम बंगाल के बशीरहाट और बदुड़िया में सांप्रदायिक हिंसा शुरू हो गई थी। इस घटना के बाद बशीरहाट दौरे पर गए भाजपा, कांग्रेस और वाम दलों के नेताओं को बीच रास्ते में ही रोक दिया। वहीं दूसरी ओर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने हिंसा को लेकर पीएम मोदी पर निशाना साधा है और उन्हें ही हिंसा के पीछे साजिश करने के लिए जिम्मेदार ठहराया है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
bjp demands presidential rule in west bengal after having meeting with governor
Please Wait while comments are loading...