• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Bihar Elections: चेरिया बरियारपुर में होगी दिलचस्प फाइट, त्रिकोणीय मुकाबले में फंसी पूर्व मंत्री मंजू वर्मा

|

पटना। बिहार विधानसभा के दूसरे चरण का मतदान 3 नवम्बर को होना है। इसके लिए चुनाव आयोग पूरी तैयारी में जुटा है वहीं मैदान में उतरे प्रत्याशियों के लिए भी अपनी बात मतदाताओं तक पहुंचाने का आज आखिरी दिन था। दूसरे चरण की जिन 94 सीटों पर मतदान होना है उनमें से ही एक सीट चेरिया बरियारपुर है। यहां से जेडीयू ने कभी अपने लिए मुसीबत बनी पूर्व मंत्री मंजू वर्मा (Manju Verma) को टिकट दिया है।

Manju Verma

मंजू वर्मा वहीं हैं जिनके पति का नाम मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड में उछला था। बाद में पुलिस के छापे में मंजू वर्मा के घर से अवैध असलहा बरामद हुआ था। पति-पत्नी दोनों जेल भी गए। मंजू वर्मा को इस्तीफा देना पड़ा। किरकिरी के बाद आखिरकार जेडीयू ने उन्हें निलंबित भी किया लेकिन एक बार फिर वे जेडीयू के टिकट पर मैदान में हैं।

मंजू वर्मा की राह नहीं आसान

    Bihar Assembly Elections 2020: Gaighat Assembly Seat का क्या है सियासी समीकरण ? | वनइंडिया हिंदी

    पिछले दो बार से चेरिया बरियारपुर से जीत रही मंजू वर्मा इस बार हैट्रिक लगाने की तैयारी में हैं लेकिन उनकी राह आसान नहीं है। लोजपा के टिकट पर उनके प्रतिद्वंदी रहे अनिल कुमार चौधरी की बहू राखी देवी को मैदान में हैं। वहीं राजद ने राजवंश महतो को उम्मीदवार बनाया है। चेरिया बरियारपुर सीट पर मुख्य मुकाबला जेडीयू, लोजपा और राजद के बीच हो रहा है। 2015 का पिछला चुनाव मंजू वर्मा ने यहां 29 हजार वोटों के भारी अंतर से जीता था। तब जेडीयू और राजद एक साथ मिलकर चुनाव लड़ी थी। उसके पहले 2010 में मंजू वर्मा ने यहां 1061 वोट के नजदीकी अंतर से जीत हासिल की थी।

    2.42 लाख वोटर वाली विधानसभा में 1.27 लाख पुरुष और 1.15 लाख महिला वोटर हैं। इनमें मुस्लिम, यादव, अतिपिछड़ा और अनुसूचित जाति के मतदाताओं की संख्या अधिक है। यहां की समस्याओं में कावर झील, जलजमाव, बाढ़ व सिंचाई की समस्या प्रमुख है।

    ये रहे पिछले 5 नतीजे

    2000 के विधानसभा चुनाव में राजद के अशोक कुमार ने जेडीयू के अनिल चौधरी को 28676 वोटों से हराया था। 2005 में फरवरी में हुए विधानसभा चुनाव में लोजपा के अनिल चौधरी ने राजद के राधा कृष्ण सिंह को 506 वोट से हराकर सीट पर कब्जा किया। 2005 में अक्टूबर में एक बार फिर विधानसभा के चुनाव हुए जिसमें लोजपा के अनिल चौधरी ने एक बार फिर जीत हासिल की। चौधरी ने राजद की कुमारी सावित्री को 533 वोट से हराया था। 2010 में ये सीट जेडीयू के कब्जे में आ गई जब मंजू वर्मा ने अनिल चौधरी को 1061 वोट के बेहद नजदीकी मुकाबले में हरा दिया। 2015 में एक बार फिर मंजू वर्मा ने अनिल चौधरी को 29736 वोटों से हरा दिया था।

    Bihar Elections 2020: तेजस्वी सत्ता में आए तो अपराधी राज्य में खुलेमाम घूमेंगे- आरके सिंह

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    bihar elections tough race for manju verma at Cheria Bariarpur assembly seat
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X