• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

बिहार में बागी नेताओं को BJP की चेतावनी, '12 अक्टबूर तक पार्टी में लौटें, वरना होगी कार्रवाई'

|

नई दिल्ली। बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान में अब कुछ ही दिन बाकी बचे हैं, लेकिन एनडीए में मची उथल-पुथल थमती हुई नजर नहीं आ रही है। लोक जनशक्ति पार्टी के एनडीए से अलग होने के बाद पिछले चंद दिनों में ही भाजपा के पांच नेता पार्टी छोड़कर जा चुके हैं। एक तरह जहां एलजेपी प्रमुख चिराग पासवान ने जेडीयू के सामने अपने प्रत्याशी उतारने का ऐलान किया है तो वहीं, भाजपा ने भी खुले तौर पर कहा है कि जिन्हें नीतीश कुमार का नेतृत्व स्वीकार नहीं है वो एनडीए का हिस्सा भी नहीं रह सकते। बिहार भाजपा के अध्यक्ष संजय जायसवाल ने बागी नेताओं को चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर 12 अक्टूबर तक ये नेता पार्टी में वापस नहीं लौटे तो उनके ऊपर कार्रवाई की जाएगी।

    Bihar Election 2020: बागियों के खिलाफ सख्त हुई BJP, दिया ये अल्टीमेटम | वनइंडिया हिंदी
    'गलत ट्रैक पर हैं एलजेपी के अध्यक्ष'

    'गलत ट्रैक पर हैं एलजेपी के अध्यक्ष'

    इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक, संजय जायसवाल ने बिहार चुनाव को लेकर कहा, 'बिहार में भाजपा पूरी तरह मजबूत है और एनडीए के नेता नीतीश कुमार ही हैं। एलजेपी ने एनडीए से अलग होकर चुनाव लड़ने का फैसला लिया है, क्योंकि इस समय जो लोग उस पार्टी में फैसला ले रहे हैं, वो गलत ट्रैक पर हैं। राम विलास पासवान जी उस वक्त बीमार होने के कारण ऐसी स्थिति में नहीं थे कि कोई फैसला ले सकें, अगर वो उस समय उस स्थिति में होते तो चीजें बदली हुई होतीं। हमने लगातार बातचीत के जरिए मामले को सुलझाने की कोशिश की, लेकिन वो लोग व्यावहारिक तरीके से नहीं सोचना चाहते।'

    'क्या BJP खुद JDU के खिलाफ अपने बागी खड़े कर रही है?'

    'क्या BJP खुद JDU के खिलाफ अपने बागी खड़े कर रही है?'

    अपने बागी नेताओं को जेडीयू के खिलाफ एलजेपी से खड़ा करने के आरोपों पर संजय जायसवाल ने कहा, 'भारतीय जनता पार्टी ऐसी राजनीति कभी नहीं करती। एलजेपी से लड़ रहे भाजपा के बागी नेताओं को हम टिकट वापसी की आखिरी तारीख तक समझाने की कोशिश करेंगे। अगर 12 अक्टूबर की शाम 5 बजे तक बागी नेता भाजपा में वापस नहीं लौटे तो फिर उनके ऊपर अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी। वो लोग हमारी पार्टी का हिस्सा हैं और हम नहीं चाहते कि वो गलत दिशा में जाएं।'

    'बागी नेताओं की समस्या दोनों तरफ है'

    'बागी नेताओं की समस्या दोनों तरफ है'

    वहीं, एलजेपी के टिकट पर जेडीयू के खिलाफ खड़े हो रहे भाजपा के बागी नेताओं को लेकर नीतीश कुमार की नाराजगी पर संजय जायसवाल ने कहा, 'कैमूर जिले में जेडीयू के जिलाध्यक्ष पार्टी से इस्तीफा देने के बाद एलजेपी के टिकट पर हमारे प्रत्याशी के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं, जो उस सीट से मौजूदा विधायक भी हैं। यह समस्या दोनों तरफ है और दोनों ही पार्टियां अपने-अपने बागी नेताओं को समझाने की लगातार कोशिश कर रही हैं। अगर ये लोग अपना नाम वापस नहीं लेते तो निश्चिंत तौर पर बागी नेताओं पर कार्रवाई की जाएगी।'

    ये भी पढ़ें- बिहार चुनाव 2020: भाजपा-जदयू या राजद-कांग्रेस गठबंधन, पहले चरण में कौन आगे ?

    बिहार में कितनी सीटें जीतेगा एनडीए?

    बिहार में कितनी सीटें जीतेगा एनडीए?

    बिहार में फिर से एनडीए की सरकार बनने का दावा करते हुए संजय जायसवाल ने कहा, 'नीतीश कुमार का शासन बिहार में शानदार रहा है और इस बार भी एनडीए 200 से ज्यादा सीटें जीतकर सरकार बनाएगा। एनडीए के चारों दल- भाजपा, जेडीयू, हम और विकासशील इंसान पार्टी पूरी मजबूती के साथ एकजुट होकर चुनाव लड़ रहे हैं। चारों दलों के बीच किसी तरह की कोई समस्या नहीं है। हर जिले में हमारी समन्वय समितियां हैं। हम लोगों ने एलजेपी से भी स्पष्ट शब्दों में कहा है कि वो अपने चुनावी पोस्टर-बैनर में पीएम मोदी की तस्वीर का इस्तेमाल नहीं करेंगे। अगर वो ऐसा करते हैं तो चुनाव आयोग इस पर एक्शन लेगा।'

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Bihar Assembly Elections 2020: BJP Warns Rebel Leaders.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X