• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Be Alert: राजस्थान में जारी है गर्मी का तांडव लेकिन इन जगहों पर आ सकता है आंधी-तूफान

|

नई दिल्ली। केरल में मॉनसून के सक्रिय होने के कारण वहां तो जमकर मेघ वर्षा हो रही है लेकिन उत्तर भारत में गर्मी की वजह से हाहाकार मचा हुआ है, हालांकि चक्रवात वायु की वजह से मौसम में बदलाव हुआ है लेकिन अभी भी गर्मी का तांडव नार्थ में कम नहीं हुआ है, भारतीय मौसम विभाग ने कहा कि गुरुवार को भी लोगों को गर्मी से निजात नहीं मिलने वाली है, आज भी राजस्थान, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, दिल्ली और एनसीआर में गर्म हवाओं का प्रकोप जारी रहेगा, हालांकि विभाग का कहना है कि दिल्ली में आज आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे और शाम तक बारिश होने का अनुमान है।

आज यहां हो सकती है बारिश

आज यहां हो सकती है बारिश

हालांकि राजधानी दिल्‍ली और आसपास के लोगों को बुधवार शाम आई आंधी और हल्‍की बारिश से फौरी राहत मिली, यहां धूल भरी आंधी चलने और बारिश होने के कारण पारा 10 डिग्री सेल्सियस लुढ़क गया, वैसे दोपहर करीब 2:30 बजे यहां अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था।

यह पढ़ें: Cyclone Vayu:आज भी खुला है सोमनाथ मंदिर, रूपाणी के मंत्री ने कहा- कुदरती आफत को हम क्या रोकें?

'वायु' चक्रवात गुजरात तट से नहीं टकराएगा

'वायु' चक्रवात गुजरात तट से नहीं टकराएगा

अरब सागर में उठा वायु चक्रवात गुजरात तट से नहीं टकराएगा। मौसम विभाग की वैज्ञानिक मनोरमा मोहंती ने गुरुवार सुबह बताया कि पिछले 6 घंटों में तूफान की दिशा बदली है। फिलहाल यह वेरावल से 130 किमी दक्षिण-पश्चिम और पोरबंदर से 180 किमी दक्षिण में है। चक्रवात वेरावल, पोरबंदर, द्वारका और सौराष्ट्र तट के पास से गुजरेगा। इस दौरान हवाओं की रफ्तार 135-160 किमी/घंटा तक हो सकती है। दीव, गिर, सोमनाथ, जूनागढ़, पोरबंदर और द्वारका में भारी बारिश हो सकती है। यहां के 500 से ज्यादा गांव खाली करा लिए गए। बुधवार रात तक तीन लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया।

चक्रवात से हो सकता है मॉनसून प्रभावित

चक्रवात से हो सकता है मॉनसून प्रभावित

'वायु' चक्रवात भारत के दक्षिणी तट के करीब से उत्तर की ओर बढ़ रहा है, इसलिए मॉनसून से नमी दूर होने की उम्मीद है। विशेषज्ञों की मानें तो इस चक्रवात के कारण मॉनसून अगले कुछ दिनों आगे बढ़ सकता है, अगर ऐसा हुआ तो दिल्ली में मॉनसून 1 जुलाई तक ही पहुंचेगा, कहने का मतलब ये कि दिल्लीवासियों को पूरा जून गर्मी में ही झेलना होगा।

यहां होगी भारी बारिश

वायु का असर गुजरात और मुंबई से पहले कर्नाटक में देखने को मिला है, मंगलुरु में जिला प्रशासन ने उल्लाल में तट के किनारे बोल्डर स्थापित किए हैं। यह नौबत तब आती है, जब काफी कठिन समुद्री परिस्थितियों उत्पन्न होती हैं, इस दौरान समुद्र में ऊंची लहरें उठने की आशंका होती है, तटीय इलाकों के आस-पास लोगों को हटने को कहा गया है, ये स्थिति खतरनाक स्थिति को बयां करने के लिए काफी है, इस चक्रवात के कारण आज कर्नाटक, तमिलनाडु के तटीय इलाकों में भारी बारिश हो सकती है।

यह पढ़ें: Cyclone Vayu: प्रशासन ने जारी किए हेल्पलाइन नंबर्स

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Thunderstorms and heavy rain are predicted in Delhi-NCR, The weather department has also predicted light to medium rain over Faridabad, Gurugram, Noida, Ghaziabad, Jahangirabad.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X