• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

पुलिस-वकील विवाद का वीडियो शेयर कर बोले प्रशांत भूषण- ऐसा लगता है वकीलों की तरफ से...

|

नई दिल्‍ली। देश की राजधानी दिल्ली में कानून के रक्षक और कानून की दलीलें देने वाले आमने-सामने हैं। शनिवार को तीस हजारी कोर्ट में एक मामूली बात पर पुलिस और वकीलों के बीच भिड़ंत हो गई, बाद में वकीलों ने आगजनी की और पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी। बस इसी वजह से ये विवाद बढ़ता चला गया जो कि एक कोर्ट से दूसरी कोर्ट और एक शहर से दूसरे शहर तक पहुंच गया। दिल्ली पुलिस आज इस मामले में हाईकोर्ट में एक समीक्षा याचिका भी दायर कर रही है। इसके जरिये हाईकोर्ट से अनुरोध किया जाएगा कि, जब घायल वकीलों के लिए आर्थिक मदद की घोषणा रविवार को ही की गई थी और रविवार को ही हाईकोर्ट के आदेश में यह भी कहा गया था कि जब तक मामले की न्यायिक जांच पूरी न हो जाए, तबतक किसी भी वकील की गिरफ्तारी नहीं की जाएगी। ऐसे में फिर ये सभी सुविधाएं घटना वाले दिन मौके पर घायल हुए पुलिसकर्मियों को भी दी जाएं।

ट्वीट कर प्रशांत भूषण ने कही ये बात

ट्वीट कर प्रशांत भूषण ने कही ये बात

बहरहाल, इस पूरे मामले में आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है। इस बीच वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने इस पूरे विवाद पर ट्वीट किया है। प्रशांत भूषण ने वकीलों और पुलिसकर्मियों के बीच मारपीट का एक वीडियो शेयर करते हुए लिखा, 'तीस हजारी कोर्ट के लॉकअप का ये वीडियो देखकर ऐसा लगता है कि आक्रामकता वकीलों की तरफ से अपनाई गई थी।'

क्या है पुलिसकर्मियों की मांग?

क्या है पुलिसकर्मियों की मांग?

अब इस मामले में पुलिस और वकील आमने-सामने हैं और अपनी मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं। दिल्ली पुलिस के बाहर पुलिसकर्मी प्रदर्शन कर रहे हैं उनका कहना है कि इस वक्त वह सुरक्षित महसूस नहीं कर रहे हैं, क्योंकि जहां पर वकीलों का गुट किसी पुलिसकर्मी को देख रहा है तो वह उसपर हमला कर दे रहा है। जैसा कि तीस हजारी कोर्ट के बाद साकेत कोर्ट, कड़कड़डूमा कोर्ट में भी वकीलों ने पुलिसकर्मी पर हमला कर दिया था। पुलिसकर्मियों का कहना है कि उनकी बात को सुना जाए, जिन वकीलों ने गलती की है कि उन्हें भी सजा मिले सिर्फ पुलिसकर्मियों को सस्पेंड ना किया जाए। अपनी इसी मांग को लेकर दिल्ली पुलिस के जवानों ने मंगलवार को दिल्ली पुलिस हेडक्वार्टर के बाहर प्रदर्शन किया।

वकील ने की आत्मदाह की कोशिश

बुधवार को दिल्ली के लगभग सभी कोर्ट में वकीलों ने दिल्ली पुलिस के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। रोहिणी कोर्ट के बाहर प्रदर्शन कर रहे एक वकील ने खुद पर पेट्रोल छिड़क कर आत्मदाह करने की कोशिश की है। आत्मदाह करने की कोशिश करने वाले वकील आशीष चौधरी ने कहा कि, वह अपने आत्मसम्मान के लिए यह कदम उठा रहे हैं।

English summary
Aggression came from the side of the lawyers in the clash between the police and lawyers, Says Prashant Bhushan.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X