• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

विंग कमांडर अभिनन्दन के बगल में खड़ी महिला कौन है?

|
    IAF Pilot Abhinandan को Wagah Border तक छोड़ने आई महिला कौन है, WATCH VIDEO | वनइंडिया हिंदी

    नई दिल्ली। भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान पाक की गिरफ्त से रिहा होकर भारत आ गए हैं। शुक्रवार शाम अटारी वाघा बॉर्डर ते रास्ते वो भारत आए। करीब साढ़े नौ बजे पाकिस्तान के रेंजर्स ने अभिनंदन को भारत को सौंपा। अभिनंदन जब बॉर्डर पर आए तो पाकिस्तान की तरफ से ही एक महिला उनके साथ दिखीं। अभिनंदन की तस्वीरों में ये महिला दिखीं तो कुछ लोगों ने सोशल मीडिया पर सवाल किया कि ये कौन हैं। तो वहीं कुछ ने उन्हें उनका परिवार ही बता दिया। दरअसल ये महिला डॉ फरिहा बुगती हैं।

     कौन हैं डॉ फरिहा बुगती

    कौन हैं डॉ फरिहा बुगती

    डॉ फरिहा बुगती बॉर्डर पर लगातार कमांडर अभिनंदन के साथ-साथ दिखीं। दरअसल, डॉक्टर फरिहा बुगती पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय में भारत मामलों की डायरेक्टर हैं। ऐसे में उनकी ही देखरेख में कमांडर अभिनंदन को लाया गया और भारत को सौपा गया। अभिनंदन के स्वागत के लिए बड़ी संख्या में लोग वाघा बॉर्डर के पास जमा रहे।

    आखिरकार भारत आए विंग कमांडर अभिनंदन, देशभर में खुशी की लहर

     बढ़ता गया रिहाई का वक्त

    बढ़ता गया रिहाई का वक्त

    विंग कमांडर को आज शाम तकरीबन 3 बजे तक आना था। अभिनंदन को लेकर 5.30 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस भी बुलाई गई थी, लेकिन किसी वजह से विंग कमांडर की वापसी में लगातार देरी होती रही है। जैसे जैसे अभिनंदन की वापसी का इंतजार लंबा हो रहा था, लोगों के अंदर बेचैनी बढ़ रही थी। लेकिन आखिरकार तकरीबन 9.25 बजे जब पाकिस्तान की मीडिया की ओर से लाइव फुटेज सामने आई कि विंग कमांडर वापस भारत आ रहे हैं, उसके बाद हर किसी के चेहरे पर खुशी थी।

    पाक सेना की गिरफ्त में आ गए थे अभिनंदन

    पाक सेना की गिरफ्त में आ गए थे अभिनंदन

    बुधवार को पाकिस्‍तान के फाइटर जेट्स का पीछा करते हुए विंग कमांडर अभिनंदन वर्थमान का जेट मिग-21 क्रैश हो गया और पाक की सीमा में गिर गया। पाक सेना ने उन्‍हें पकड़ लिया, लेकिन इससे पहले कि सेना उन्‍हें पकड़ती विंग कमांडर अभिनंदन ने बहादुरी दिखाते हुए सारे जरूरी दस्तावेज नष्ट कर दिए। अभिनंदन ने कुछ दस्तावेजों को निगल लिया, जबकि कुछ को तालाब में फेंककर नष्ट कर दिया। स्थानीय लोगों से घिरे अभिनंदन ने करीब 15 मिनट तक हवा में फायरिंग की, ताकि लोग उनके करीब ना आ सकें, लेकिन उन्होंने किसी भी स्थानीय नागरिक पर गोली नहीं चलाई। पाकिस्तानी सेना ने जब उन्हें गिरफ्तार कर लिया तो भी उन्होंने बहादुरी का परिचय दिया और कोई भी जानकारी पाकिस्तानी सेना को देने से मना कर दिया। अभिनंदन की वापसी को लेकर देशभर में दुआएं की गईं और आखिरकार उनकी रिहाई का रास्ता खुल गया।

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Abhinandan Varthaman returns to India Dr Fareha Bugti with him at border
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X