कोटखाई गैंगरेप केस: CBI जांच की मांग, अपराधियों पर BJP सांसद ने रखा 1 लाख का इनाम

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

शिमला। कोटखाई में 6 जुलाई को हुए बहुचर्चित कोटखाई गैंगरेप मर्डर केस में पांच दिन बाद भी पुलिस के हाथ कोई सुराग नहीं लग पाने पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने नाराजगी जतायी है। उन्होंने इस केस को सीबीआई को सौंपने की पैरवी की है, ताकि अपराधियों को जल्द पकड़ा जा सके। उन्होंने कहा कि प्रदेश की कानून व्यवस्था पूरी तरह से विखंडित हो चुकी है। ऐसी शर्मसार कर देने वाली जघन्य घटना देवभूमि के लिए हैरान करने वाली है। यह हमारे इस आरोप को भी प्रमाणित करती है कि प्रदेश में कानून व्यवस्था निम्न स्तर पर पहुंच गई है।

बीजेपी सांसद ने 1 लाख का रखा इनाम

बीजेपी सांसद ने 1 लाख का रखा इनाम

वहीं इस मामले में वरिष्ठ भाजपा नेता एंव कांगड़ा के सांसद शान्ता कुमार ने आज कहा कि कोटखाई में 10वीं की छात्रा से बलात्कार और फिर शर्मनाक तरीके से हत्या एक दुर्भाग्यपूर्ण और निन्दनीय घटना है। इससे पूरे हिमाचल में चिन्ता और गुस्सा व्यक्त हुआ है। हिमाचल जैसे धार्मिक और शान्त प्रदेश में शायद इस प्रकार की यह पहली दर्दनाक घटना है। भाजपा सांसद इस घटना से बेहद व्यथित हैं। उन्होंने कहा कि जो कोई भी इस घटना में देाषी दरिंदों का पता पुलिस को देगा, उसे वे अपनी ओर से एक लाख रुपए देंगे। शान्ता कुमार ने हिमाचल सरकार से विशेष आग्रह किया है कि प्रदेश में इस प्रकार के घिनौने अपराधों को रोकने के लिए अति शीघ्र कार्यवाही करे। पिछले कुछ दिनों से प्रदेश में अपराधों की संख्या बढ़ती जा रही है।

मुख्यमंत्री ने डीजीपी को किया तलब

मुख्यमंत्री ने डीजीपी को किया तलब

कोटखाई गैंगरेप मर्डर केस में प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने आज प्रदेश पुलिस महानिदेशक सोमेश गोयल को निर्देश दिए हैं कि आरोपियों को जल्द से जल्द पकड़ा जाना सुनिश्चित करें। मंगलवार सुबह सीएम वीरभद्र सिंह ने प्रदेश के डीजीपी गोयल को अपने निवास हॉली लॉज बुलाकर इस विषय पर विस्तार से चर्चा की व साथ ही कहा कि इस मामले में न्याय मिलेगा।सीएम ने कहा है कि इस जघन्य अपराध के आरोपियों के साथ किसी तरह की ढील नहीं बरती जाएगी। वीरभद्र सिंह इस मामले में पहले ही पीडि़त परिवार को पांच लाख रुपए की मदद की घोषणा कर चुके हैं। डीजीपी ने इस मामले में चल रही पुलिस जांच की रिपोर्ट सीएम को दी।

SIT का हुआ गठन

SIT का हुआ गठन

जाहिर है कि कोटखाई में स्कूली छात्रा के साथ हुए रेप पर मर्डर मामले को लेकर लोगों में रोष है। इस मामले में अभी तक किसी भी आरोपी के पकड़े न जाने को लेकर कई समाजसेवी संस्थाएं राज्यपाल से मिल चुकी हैं। उधर, इस मामले की जांच के लिए पुलिस विभाग की ओर से एसआईटी का गठन किया गया है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
bjp demands cbi inquiry in priyanka gangrape case in kotkhai, shimla
Please Wait while comments are loading...