• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

गुड़गांव में गैंगवार: गैंगस्‍टर महेश सिंह उर्फ अटैक की गोलियों से भूनकर हत्‍या

|

नई दिल्‍ली। हरियाणा के नामी गैंगस्‍टर महेश सिंह उर्फ अटैक की बुधवार की रात गोली मारकर हत्‍या कर दी गई। अटैक पर ताबड़तोड़ 30 गोलियां दागी गईं। इस हत्‍या के बाद एक बार फिर गुड़गांव में गैंगवार की आशंकाएं बढ़ती दिख रही हैं। वहीं शुरुआती छानबीन में जो बातें सामने आ रही हैं उसके मुताबिक अटैक की हत्‍या गुड़गांव में एकाधिपत्य व बदला लेने की नियत से की जा सकती है।

खुलासा: उत्तर कोरिया के दोनों परमाणु बम पाकिस्‍तान में बने थे, वैज्ञानिकों ने की थी मदद

Gangster Mahesh Singh alias 'Attack' Murdered In Likely Inter-Gang Rivalry

फिलहाल पुलिस को इस गैंगवार के पीछे संदीप गाडोली व बिंदर गुर्जर गैंग के होने का शक है। छानबीन के लिए पुलिस ने तीन टीम गठित की हैं। सभी टीम हर तरीके से जांच करेंगी। पुलिस को हत्या में शामिल एसयूवी कार हाथ लगी है जो लगभग एक महीने पहले सेक्‍टर 10 से लूटी गई थी।

सीवान के DM और SP ने भी माना, शहाबुद्दीन से है कानून व्‍यवस्‍था को खतरा

कैसे हुई हत्‍या?

महेश सिंह उर्फ अटैक झाड़सा चौक स्थित अपने ऑफिस से रोजाना की तरह अपनी कार में सवार होकर घर के लिए निकल रहा था। उसी वक्‍त कार में सवार होकर आए बदमाशों ने उसपर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। महेश को उसके साथियों ने मेंदाता अस्पताल पहुंचाया, लेकिन चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस के मुताबिक मौके से करीब 22 खोखे बरामद हुए हैं जबकि 8 गोलियां अटैक के शरीर से निकाली गई हैं। पुलिस की मानें तो अटैक की मौत मौके पर ही हो गई थी।

बुंदेलखंड में धड़ल्‍ले से खरीदी-बेची जा रही हैं 'कागजी दुल्‍हनें', स्‍टाम्‍प पेपर पर हो जाती है शादी

कुछ सालों से था अपराध से दूर, करना चाहता था पॉलीटिक्‍स में एंट्री

पिछले कुछ वर्षों से गैंगस्टर अटैक अपराध जगत से लगभग दूर था। वह सादगीपूर्ण जीवन व्यतीत करते हुए प्रापर्टी का कारोबार कर रहा था। सामाजिक गतिविधियों में भी हिस्सा लेने लगा था। स्‍थानीय लोगों की मानें तो गैंगस्टर अटैक अब राजनीति में हाथ आजमाना चाहता था। इसके लिए उसने इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) का साथ पकड़ा था।

उरी अटैक के बाद मुश्‍किल में 'ऐ दिल है मुश्किल' और 'रईस'

उसकी फेसबुक वाल पर इनेलो के बड़े नेता व हरियाणा विधानसभा में विपक्ष के नेता अभय चौटाला के साथ फोटो भी है। अटैक की भाभी पूनम किलौड़ इनेलो की टिकट पर पिछली बार नगर पार्षद चुनी गई थीं।

गैंगस्‍टर अटैक की क्राइम कुंडली

अटैक ने जरायम की दुनिया में सन 1997 में कदम रखा था। उस वक्‍त उसकी उम्र मात्र 17 साल थी। मुख्य डाकघर से दिनदहाड़े 40 लाख की लूट के बाद अटैक बालंबे अरसे तक आतंक का पर्याय बना रहा। नौ साल पहले उसकी शादी हो गई। शादी के बाद से ही अटैक अपराध की दुनिया से दूरी बनाने लगा था।

ओम प्रापर्टी के नाम से उसने जमीन जायदाद के धंधे में हाथ आजमाने शुरू कर दिए थे। साथ ही वो गांव के सामाजिक कार्यों में हिस्सा लेने लगा था। इन कार्यों में वह बढ़-चढ़ कर चंदा भी देता था। पिछले सप्ताह ही उसने गांव में हुए दंगल में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। अटैक के पिता सूबे सिंह झाड़सा गांव के सरपंच भी रह चुके हैं।

जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Mahesh Attack, a gangster who has several cases of robbery and murder filed against him, was shot dead in Gurgaon on Wednesday night, said police.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more