• search
गुजरात न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

राजधानी गांधीनगर समेत गुजरात के 6 शहर लॉकडाउन, 4 हजार से ज्यादा लोग आइसोलेशन में

|

गांधीनगर. कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के चलते गुजरात में 6 शहर लॉकडाउन हो चुके हैं। राज्य सरकार ने पहले 4 बड़े शहरों अहमदाबाद, सूरत, राजकोट और वडोदरा में पाबंदियां लगाई थीं, उसके बाद कच्छ और गांधीनगर में बंद जैसी स्थिति लागू कर दी। सरकार की अधिसूचना में कहा गया कि, मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए अति-आवश्यक वस्तुओं को बेचने वाली दुकानों को छोड़कर सभी दुकानों-मॉलों को बंद करने का आदेश दिया है। राजधानी गांधीनगर में भी केवल जरूरी सामानों की बिक्री को ही मंजूरी है। इन सभी बड़े शहरों में कंपनियां, स्कूल-कॉलेज, सिनेमा और मॉल्स भी 25 मार्च तक बंद रहेंगे।

सरकारी दफ्तरों में आधा स्टाफ ही काम पर

सरकारी दफ्तरों में आधा स्टाफ ही काम पर

प्रशासनिक अधिकारियों ने आश्वासन दिया है कि, आमजन की जरूरतें पूरी करने पर जोर रहेगा। दूध, सब्जी, मेडिकल उपकरण और दवाइयों की दुकानें और हॉस्पिटल खुले रहेंगे। वहीं, इससे पहले रविवार शाम को विभिन्न स्थानों पर महानगरपालिका और नगरपालिकाएं सार्वजनिक स्थलों पर दवाओं का छिड़काव करती देखी गईं। अमूमन खासी भीड़ से गुलजार रहने वाले बाजार और इलाके फिलहाल सूने पड़ गए। बहरहाल, सरकारी दफ्तरों में भी आधा स्टाफ ही काम पर रखा गया है।

मुख्यमंत्री ने मांगे शहरवासियों से 3 दिन

मुख्यमंत्री ने मांगे शहरवासियों से 3 दिन

बकौल रूपाणी, "अभी 3 दिनों के लिए, हमें इमरजेंसी के बिना बाहर आने की जरूरत नहीं है। अगर लोग इसे बनाए रखते हैं, तो हम इस गंभीर स्थिति से बाहर आ सकते हैं। यह समझिए कि शहरों के सुरक्षित हो जाने के बाद, राज्य सुरक्षित हो जाएगा। इसलिए, मैं लोगों से अपील करता हूं कि वे हमारा समर्थन करें। दूध, सब्जी की दुकान, वित्तीय सेवाएं, बैंकिंग आदि का संचालन जारी रहेगा।''

राज्य में 4,271 लोग आइसोलेट हुए

राज्य में 4,271 लोग आइसोलेट हुए

मुख्यमंत्री ने बताया कि, राज्य में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए इंटरनेशनल फ्लाइट्स पर रोक लगा दी गई है। हम अपने फेज 2 और 3 के बीच में हैं। कोरोना के कारण मृत्यु का आंकड़ा 2 प्रतिशत से कम है। इसलिए घबराने की आवश्यकता नहीं है। वैसे भी राज्य में इंटरनल सम्पर्क का केवल एक ही मामला सामने आया है। उन्होंने कहा कि, यहां 4,271 लोग आइसोलेशन में हैं। जिनमें वो लोग शामिल हैं, जो विदेशों से लौटे थे और जो उनके संपर्क में आए थे। सरकार ने ऐसे लोगों के लिए 31 पृथक इकाइयां शुरू की हैं। इसके अलावा अहमदाबाद में नया सिविल हॉस्पिटल, जो 1200 बेड का है, उसे पूरी तरह से कोरोना वायरस का आइसोलेशन सेंटर बनाया गया है।

गुजरात: कोरोना के 18 मरीजों की पहचान उजागर करेगी सरकार, ताकि उनके सपंर्क में आए लोगों को पता चले

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Coronavirus Gujarat live: more than 4 thousand people in isolation across state
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X