• search
गांधीनगर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

मसालों का सबसे बड़ा उत्पादक गुजरात जीरे का जायका देने में राजस्थान से पीछे छूट गया, वजह 'पानी'

|

Gujarat News, गांधीनगर। भारत में गुजरात मसालों का बड़ा उत्पादक रहा है, लेकिन इस साल जीरा के उत्पादन में राजस्थान से यह पीछे रह गया है। आंकड़ों के अनुसार, राजस्थान में जीरा उत्पादन में 20 प्रतिशत तक की वृद्धि देखने को मिली है। वहीं, इसके उलट गुजरात में 2019 के दौरान जीरा उत्पादन में 3 प्रतिशत की कमी हुई है।

इतना हुआ जीरे का दोनों प्रांतों में उत्पादन

इतना हुआ जीरे का दोनों प्रांतों में उत्पादन

राजस्थान में जीरा का उत्पादन 2019 में 2.07 मैट्रिक टन से बढ़कर 2019 में 2.50 लाख मैट्रिक टन होने का अनुमान है। जब कि, गुजरात में 2018 में 1.73 लाख मैट्रिक टन से 2019 में 1.67 लाख मैट्रिक टन जीरा उत्पादन होने का अनुमान है।

2.91 लाख टन के उत्पादन के साथ नंबर-1 रहा था गुजरात

2.91 लाख टन के उत्पादन के साथ नंबर-1 रहा था गुजरात

परंपरागत रूप से गुजरात और राजस्थान भारत में जीरे के अधिकांश उत्पादन के लिए मशहूर हैं। पिछले वर्षों में गुजरात ने जीरा उत्पादन का रिकॉर्ड दर्ज किया है। केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय के तहत मसाला बोर्ड ऑफ इंडिया ने गुजरात को 2018 में 2.91 लाख टन के उत्पादन के साथ नंबर वन पर रखा था।

पानी की कमी से उत्पादन में पीछे छूट रहा गुजरात

पानी की कमी से उत्पादन में पीछे छूट रहा गुजरात

राज्य के कृषि विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि, गुजरात में पानी की कम उपलब्धता के कारण जीरा उत्पादन में कमी आयी है। व्यापारियों और बाजार विशेषज्ञों का कहना है कि बुआई के मौसम में सिंचाई के लिए पानी की कम उपलब्धता के कारण गुजरात में मसाले का उत्पादन कम हो रहा है।

इतनी हुई दोनों राज्यों में जीरे की खेती

इतनी हुई दोनों राज्यों में जीरे की खेती

गुजरात में जीरे की फसल 3.15 लाख हेक्टेयर पायी गई है, जो पिछले साल 3.31 लाख हेक्टेयर थी, वही राजस्थान में दोनों वर्षो की तुलना में 19 प्रतिशत का फसल एरिया बढ़स है। राजस्थान में पिछले साल 4.25 लाख हेक्टेयर था, अभी बढकर 5.06 लाख हेक्टेयर हो चुका है।

कंप्यूटर ऑपरेटर थी 20 साल की युवती, उस पर सीनियर जमाता था धौंस, वो बॉस से शिकायत करने चली तो किचन में पकड़ लिया और पत्थर से मार डाली

राजस्थान में गुजरात से बीज की उपज बेहतर

राजस्थान में गुजरात से बीज की उपज बेहतर

सिंचाई के पानी की उपलब्धता के साथ, सीमावर्ती राजस्थान में सांचोर से बाड़मेर तक फैला क्षेत्र जीरा की खेती के तहत व्यापक क्षेत्र में लाया जा रहा है। हालाँकि, अच्छी खबर यह है कि राजस्थान में उत्पादित जीरे का अधिकांश भाग राज्य के उंझा में व्यापार के लिए आता है। राजस्थान के किसानों और व्यापारियों ने अपनी उत्पादकता बढ़ाने के लिए ऊंझा से बीज भी खरीदे थे, क्योंकि गुजरात से बीज की उपज बेहतर है।

5 वर्षों में यहां 26,907 महिलाएं गुम हो गईं, 8 हजार किडनैप कर ली गईं और 4 हजार से ज्यादा ने रेप की शिकायत दर्ज कराई

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Rajasthan breakdown the record of Gujarat in production of cumin seed
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X