• search
दिल्ली न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

सुनील तमांग हत्या मामले की गुत्थी सुलझी, पुलिस ने किया ये चौंकाने वाला खुलासा

|

दिल्ली। 10 सितंबर को दिल्ली के अमर कॉलोनी इलाके में हुई नेपाली मूल के युवक की हत्या के मामले का पुलिस ने चौंकाने वाला खुलासा कर दिया है। पुलिस ने घटना का खुलासा करते हुए लिव इन पार्टनर समेत 3 लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस की मानें तो प्रारंभिक जांच में मामला सामने आया है कि युवक अपनी छोटी-छोटी जरूरतों से लिए अपनी गर्लफ्रेंड पर निर्भर रहता था और उसके साथ बदसलूकी करता था।

क्या है मामला

क्या है मामला

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, दिल्ली के अमर कॉलोनी इलाके में 10 सितंबर को एक घर की तीसरी मंजिर से सुनील तमांग नाम के युवक का शव पुलिस ने बरामद किया था। सुनील तमांग की चाकू से गोदकर हत्या की गई थी। सुनील बीते एक साल से अमर कॉलोनी इलाके में ही अपनी गर्लफ्रैंड के साथ रहता था। दक्षिणी पूर्वी दिल्ली के डीसीपी चिन्मय बिस्वाल मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि सुनील तमांग की गर्लफ्रैंड अनीता पश्चिम बंगाल की रहने वाली है। कहा कि अनीता करीब दो साल से अपने पहले पति को छोड़कर सुनील के साथ लिव-इन में रहने लगी थी। सुनील एक रेस्त्रां में वेटर का काम करता था।

छोटी-छोटी जरूरतों के लिए अनीता पर निर्भर था

छोटी-छोटी जरूरतों के लिए अनीता पर निर्भर था

पुलिस ने जब सुनील की गर्लफ्रैंड अनीता से घटना के बारे में पूछताछ कि तो उसने बताया कि वो घटना से एक दिन पहले अपनी एक सहेली के घर ग्रेटर नोएडा गई हुई थी और जब वह 10 सितंबर को वापस लौटी तो उसे सुनील का शव घर में पड़ा हुआ मिला। पुलिस को अनिता पर शक हुआ और जब पुलिस ने अनीता से सख्ती से पूछताछ की तो अनीता ने अपना गुनाह कबूल कर लिया। दक्षिणी पूर्वी दिल्ली के डीसीपी के मुताबिक सुनील पिछले कुछ समय से बेरोजगार था और अपनी छोटी-छोटी जरूरतों के लिए अनीता पर निर्भर था। बस इसी बात से परेशान अनीता ने अपने भाई और जीजा के साथ मिल कर अपने सुनील की हत्या की साजिश रची।

तीन आरोपियों को किया गिरफ्तार

तीन आरोपियों को किया गिरफ्तार

अनीता का भाई विजय पहले से ही सुनील को पसंद नहीं करता था। अनीता ने अपने भाई सुनील और जीजा राजेंद्र को पश्चिम बंगाल से दिल्ली बुला लिया और अनीता खुद अपनी सहेली के घर ग्रेटर नोएडा चली गई, जबकि भाई और जीजा को सुनील के पास छोड़ गई। वारदात वाली रात अनीता ने सुनील से देर रात 4 बजे तक व्हाट्सप्प पर बात की। जैसे ही सुनील सोया उसी का फायदा उठा कर सुनीता के भाई और जीजा ने सुनील की गला रेत कर हत्या कर दी, उसके बाद दोनों ने चाकू रिंग रोड पर फेंका और ट्रेन पकड़कर पश्चिम बंगाल चले गए। पुलिस ने दोनों को पश्चिम बंगाल से गिरफ्तार कर लिया है।

    दिल्ली: सरेआम बदमाशों ने युवक को गोलियों से भूना, सर में मारी चार गोलियां

    ये भी पढ़ें:- स्वाति मालीवाल ने पूछे पांच सवाल, लिखा- क्या दिल्ली को बैंकॉक बनाना चाहती है BJP?

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Delhi Police arrested three accused for revealing murder of Sunil Tamang
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X