• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अगर Yes Bank में है आपका भी खाता, तो आपके लिए बेहद जरूरी हैं ये बातें

|

नई दिल्ली। संकट में फंसे Yes Bank की मुश्किलें बढ़ गई है। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) ने यस बैंक पर सख्ती बरतते हुए इससे 50 हजार रु निकासी की सीमा तय कर दी है। आरबीआई का ये आदेश अगले एक महीने के लिए है। आरबीआई के आदेश के बाद इस बैंक के खाताधारकों में डर का माहौल है क्योंकि वे अपने खाते से 50 हजार रुपए से अधिक की निकासी नहीं कर पाएंगे। हालांकि, आरबीआई ने कहा है कि ग्राहकों के हितों को संरक्षित किया जाएगा, किसी को भी घबराने की जरूरत नहीं है।

    Yes Bank Crisis: यस बैंक Account holder के लिए जरूरी खबर, जान लें ये बातें | वनइंडिया हिंदी
    आरबीआई ने यस बैंक के बोर्ड को सस्पेंड किया

    आरबीआई ने यस बैंक के बोर्ड को सस्पेंड किया

    निजी सेक्टर की बैंक यस बैंक लंबे वक्त से कर्ज से जूझ रहा है। आरबीआई ने यस बैंक के बोर्ड को सस्पेंड करने के बाद इसके संचालन के लिए एसबीआई के पूर्व सीएफओ प्रशांत कुमार को प्रशासक नियुक्त किया है। नगदी की समस्या से जूझ रहे यस बैंक में निवेश के लिए स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने अपनी सैद्धांतिक मंजूरी दे दी है। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया और एलआईसी दोनों ही ने यस बैंक में सामूहिक रूप से 49 फीसदी शेयर हासिल करने की बात कही है। अगर आप यस बैंक के खाताधारक हैं तो आपके लिए इन बातों को जानना जरूरी है।

    ये भी पढ़ें: डूबने की कगार पर यस बैंक, मदद के लिए SBI ने बढ़ाया हाथ, निवेश को दी सैद्धांतिक मंजूरी

     3 अप्रैल तक रहेगी आरबीआई द्वारा लगाई गई रोक

    3 अप्रैल तक रहेगी आरबीआई द्वारा लगाई गई रोक

    सरकार ने कहा है कि बैंक के खिलाफ सभी कार्रवाई और 50,000 रुपए से अधिक की निकासी पर 3 अप्रैल तक रोक लगा दी गई है। इसमें बैंक को 50,000 रुपए से अधिक का भुगतान नहीं करने का आदेश दिया गया है। 50,000 हजार रु से अधिक की निकासी पर रोक सभी बैंक खातों- सेविंग, डिपॉजिट और चालू खातों के लिए है। इस आदेश के बाद यस बैंक कोई लोन रिन्यू नहीं कर पाएगा और ना कोई निवेश कर पाएगा।

    विशेष परिस्थितियों में मिलेगी छूट

    विशेष परिस्थितियों में मिलेगी छूट

    कुछ विशेष परिस्थितियों में खाताधारक को अपने खाते से 50 हजार रु से अधिक निकालने की अनुमति होगी। मेडिकल इमरजेंसी, शादी और एजुकेशन फीस जैसी जरूरतों के लिए छूट है। इस केस में ग्राहक 5 लाख तक की रकम निकाल सकते हैं। बैंक ने स्पष्ट किया है कि वह अपने 20,000 से अधिक कर्मचारियों को किराए के साथ-साथ वेतन का भुगतान भी करेगा। हालांकि, यदि यस बैंक में आपका सैलरी अकाउंट है तो आपको कुछ और फंड की आवश्यकता हो सकती है।

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Yes bank crisis: if you are yes bank customer, here is what you need to know
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X