• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

पेट्रोल-डीजल के दाम जल्‍द हो सकते हैं कम, जानें वजह

|
Google Oneindia News

नई दिल्‍ली। देश में लगातार पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमत ने आम इंसान की कमर तोड़ दी है लेकिन भारत में घरेलू ईंधन की कीमतें जल्द ही कम हो सकती हैं क्योंकि पिछले 10-14 दिनों में वैश्विक तेल की कीमतों में भारी गिरावट आई है। पेट्रोल-डीजन के दाम राज्यों में तभी कम होंगे जब जब राज्य द्वारा संचालित तेल मार्केटिंग कंपनियां वैश्विक कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट का लाभ आमजन को देने का फैसला करती हैं।

fuel

राज्य में ऑयल मॉर्केटिंग कंपनियों (ओएमसी) ने नागरिकों को अंतर्राष्ट्रीय कच्चे तेल की गिरती दरों का लाभ देने का निर्णय लिया है। ओएमसी के पास पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कटौती करने के लिए अधिक अवसर है, जो वर्तमान में भारत में मंहगे दामों में पेट्रोल-डीजन बेच रहे हैं। महत्‍वपूर्ण बात ये है कि बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड ऑयल वर्तमान में $ 63.98 प्रति बैरल पर खुदरा बिक रहा है, जो हाल ही में $ 70 से अधिक है। वेस्ट टेक्सास इंटरमीडिएट (WTI) क्रूड या यूएस क्रूड भी गिरकर 60.94 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया है।

OPEC+ ने उत्पादन में कटौती का फैसला करने के बाद अप्रैल में अंतर्राष्ट्रीय दरों में वृद्धि शुरू की थी। वैश्विक तेल की कीमतों में भी तेजी से मांग में सुधार और US stimulus package के हालिया रोलआउट के बीच वृद्धि हुई है। हालांकि, यूरोप और दुनिया के अन्य हिस्सों में बढ़ते कोरोना के मामलों के कारण अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमतों में फिर से गिरावट आई है।

यूरोपीय कोरोनावायरस लॉकडाउन के कारण कीमतों में दबाव बना रहा है
विश्लेषकों के अनुसार, कुछ प्रमुख देशों ने फिर से लॉकडाउन की घोषणा की है, जिससे अंतरराष्ट्रीय तेल की कीमतों पर दबाव बढ़ गया है। रिलायंस सिक्योरिटीज के एक वरिष्ठ अनुसंधान विश्लेषक, श्रीराम अय्यर ने कहा "अंतरराष्ट्रीय तेल की कीमतें सोमवार को एक तड़का हुआ कारोबारी सत्र में मामूली रूप से कम हो गईं, क्योंकि इस साल बाद में मांग बढ़ने की उम्मीद थी। "अय्यर ने कहा, "नए यूरोपीय कोरोना वायरस लॉकडाउन के कारण कीमतों में दबाव बना रहा।

क्या लाभ पर OMCs का असर पड़ेगा?
चूंकि अंतर्राष्ट्रीय कच्चे तेल की दरों के आधार पर फ्यूल की कीमतें आधारित होती है इसलिए इसमें हालिया गिरावट घरेलू फ्यूल कीमतों में कटौती के लिए स्थिति को बेहतर बनाती है। हालांकि, कुछ भी ठोस नहीं कहा जा सकता है क्योंकि कोविड -19 महामारी के चरम के दौरान ग्राहकों को गिरती दरों के लाभ पर ओएमसी पास नहीं हुआ था। लेकिन सरकार ने डोमेस्टिक पेट्रोल और डीजल की बढ़ती दरों के पीछे जो तर्क दिया है, उसके चलते अंतरराष्ट्रीय दरों में गिरावट से देश भर में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में गिरावट आनी चाहिए।

प्राइस में रिकार्डतोड़ बढ़ोत्‍तरी
फ्यूल की कीमतें, हालांकि 27 फरवरी से अपरिवर्तित हैं, देश में रिकॉर्ड ऊंचाई पर हैं। दिल्ली में, एक लीटर पेट्रोल वर्तमान में 91.17 रुपये पर बिक रहा है, जबकि मुंबई में यह 97 रुपये से ऊपर है। डीजल की दरों में देश में समान वृद्धि हुई है और प्रमुख शहरों में 80 रुपये प्रति लीटर से अधिक की खुदरा बिक्री हुई है। वर्ष की शुरुआत के बाद से, पेट्रोल और डीजल दोनों दरों में 7 रुपये प्रति लीटर की वृद्धि हुई है। बता दें विश्लेषकों की आशंका के अनुसार उच्च पेट्रोल और डीजल की कीमतों ने भी मांग को प्रभावित किया है। फरवरी में डीजल की बिक्री में 8.5 फीसदी की कमी आई थी, जबकि पेट्रोल की मांग में 6 फीसदी की गिरावट आई थी।

भारत में क्‍यों अधिक है पेट्रोल-डीजन की कीमत
केंद्र और राज्य सरकारों द्वारा एकत्र किए गए फ्यूल कर की उच्च दर एक और कारण है कि देश में पेट्रोल और डीजल की कीमतें बढ़ जाती हैं। भारत में ईंधन पर सबसे अधिक करों में से एक है और लगभग 60 प्रतिशत जो उपभोक्ता पेट्रोल और डीजल के लिए भुगतान करते हैं उनमें विभिन्न कर शामिल हैं। जबकि केंद्र सरकार ने ईंधन की कीमतों में कमी के लिए कोई पुष्टि नहीं की है, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने हाल ही में बताया कि यह एक ऐसा मुद्दा है जिसे परामर्श के बाद केंद्र और राज्यों दोनों द्वारा हल किया जाना चाहिए।

Bitcoin: जानिए, इस साल बिटकॉइन में इनवेस्ट करना क्यों साबित हो सकता है फायदे का सौदाBitcoin: जानिए, इस साल बिटकॉइन में इनवेस्ट करना क्यों साबित हो सकता है फायदे का सौदा

https://hindi.oneindia.com/photos/demi-rose-sexy-viral-pictures-oi60252.html

Comments
English summary
Petrol and diesel prices may be low soon, know the reason
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X