• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

दुनिया की आखिरी सफेद मादा जिराफ और उसके बच्‍चे को शिकारियों ने मार डाला, धरती पर बचा सिर्फ एक वो भी नर

|

नई दिल्‍ली। भुरे रंग का जिराफ आपने देखा होगा, लेकिन सफेद रंग का जिराफ आपने शायद ही देखा हो। ऐसा इसलिए क्‍योंकि ये काफी दुर्लभ है। इतना दुलर्भ कि ये दुनिया में सिर्फ तीन ही हैं। लेकिन अफसोस कि अब पूरी दुनिया में सिर्फ एक ही बचा है। दुर्लभ सफेद जिराफों में से दो जिराफों की शिकारियों ने हत्या कर दी है। आपको बता दें कि सफेद जिराफ एक दुर्लभ जानवर है जो केवल केन्या में ही बचे हुए थे, लेकिन उनका भी लोगों ने शिकार कर लिया है। जानकारों का कहना है कि साल 2017 में केन्या के इशाकबीनी कंजर्वेशन में सफेद रंग का जिराफ देखने को मिला था। उस समय सफेद मादा जिराफ अपने बच्चों के साथ जंगल में घूमती नजर आई थी। हत्‍या भी मादा जिराफ और उसके एक बच्‍चे की हुई है। बताया जाता है कि अब सिर्फ एक नर सफेद जिराफ इस जंगल में बचा रह गया है, ये उस समय इन शिकारियों की रेंज से बाहर था इस वजह से वो उनकी गोली का शिकार नहीं हो पाया।

शिकारियों ने गला रेत कर की जिराफों की निर्मम हत्‍या

शिकारियों ने गला रेत कर की जिराफों की निर्मम हत्‍या

शिकारियों ने सफेद मादा जिराफ और उसके 7 महीने के बच्चे को गोली मार दी। फॉरेस्ट रेंजर्स को उत्तर-पूर्वी केन्या में गरिसा काउंटी के गांव में दोनों के शव बरामद हुए हैं। इशाकबिनी कंजर्वेशन के मैनेजर मोहम्मद अहमद नूर का कहना है कि सफेद मादा जिराफ और बच्चे की मौत से गांव के लोग ही नहीं पर्यटक भी दुखी हैं। कई लोग केवल उन्हें देखने के लिए यहां आया करते थे।

आखिरी शिकारियों ने क्‍यों किया ऐसा

आखिरी शिकारियों ने क्‍यों किया ऐसा

ये साफ नहीं हो पाया है कि शिकारियों ने दोनों जानवरों को किस मकसद से मारा है। फिलहाल मामले की जांच जारी है. पुलिस उन आरोपी शिकारियों की तलाश कर रही है। बता ये जिराफ बिल्कुल अलग दिखते हैं। इनके बाकियों से अलग होने की वजह एक बिमारी है जिसका नाम है ल्यूसिज्‍म (leucism)। ये एक जेनेटिक बीमारी हैं इसमें त्वचा की कोशिकाओं के पिग्मेंटेशन को रोकती है। इसी बिमारी की वजह से इन जिराफों का रंग सफेद हो गया था।

इनकी संख्‍या बढ़ाने के लिए इनपर शोध चल रहा था लेकिन अब

इनकी संख्‍या बढ़ाने के लिए इनपर शोध चल रहा था लेकिन अब

इस तरह के जानवरों का संरक्षण करने वाली संस्था के प्रबंधक मोहम्मद अहमदूर ने कहा कि हम लोग ऐसे जानवरों को बचाने के लिए तमाम तरह के उपाय कर रहे हैं, उन्हें संरक्षित कर रहे हैं मगर कुछ लोग इन चीजों को खत्म करने में लगे हुए हैं। ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए। ऐसे दुर्लभ जानवरों की हत्या किए जाने से अब यहां के पर्यटन और अनुसंधान उद्योगों को बड़ा झटका है। उन्होंने कहा कि यह एक दीर्घकालिक नुकसान है। इन दुर्लभ जानवरों पर शोध भी किए जा रहे थे और इनके जरिए इनकी प्रजाति को बढ़ाने पर भी काम हो रहा था जो अब पूरी तरह से बंद हो जाएगा। ये महत्वपूर्ण शोध थे जो अब बंद हो गए। यदि इन पर किए जा रहे शोध सफल होते तो इन सफेद जिराफों की संख्या में भी बढ़ोतरी हो जाती, इससे यहां पर्यटन क्षेत्र को भी बढ़ावा मिलता मगर शिकारियों ने इसे पूरी तरह से बंद करवा दिया।

आप भी देखिए VIDEO जो खूब वायरल हुआ था

कुछ दिनों पहले सफेद जिराफों का एक वीडियो वायरल हुआ था जिसमें मादा जिराफ अपने बच्‍चों के साथ घूम रही थी। सफेद जिराफ का ये वीडियो देखने के बाद लोगों में सफेद जिराफ के अस्तित्व को लेकर उम्मीद बंध गई थी।

VIDEO: प्रियंका चोपड़ा ने निक जोनस संग देसी अंदाज में मनाई होली, भांग पीकर खूब खेला रंग

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Two of the last three white giraffes on earth killed by hunters in Kenya forest .
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X