हत्या करने से पहले श्मशान में करते थे विशेष पूजा...लेकिन इस बार भूल गए भभूत!

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

पटना। ऐसा कहा जाता है कि अपराधियों की कोई जात नहीं होती, घटना को अंजाम देने के लिए वो किसी भी हद तक चले जाते हैं और बहू-बेटियों को आनाथ कर देते हैं। तो ऐसे अपराधिक गैंग की कहानी सुनिए जो घटना को अनोखा अंजाम देता था। घटना से पहले श्मशान में जाकर वो विशेष तरीके से पूजा-अर्चना करता था फिर वहां भभूत और फूल लगाते हुए लोगों का खून करने निकलता था।

हत्या करने से पहले श्मशान में करते थे विशेष पूजा...लेकिन इस बार भूल गए भभूत!

मामला बिहार के दरभंगा जिले का है जहां दरभंगा पुलिस ने एक ऐसे गैंग का खुलासा किया है जो तंत्र-मंत्र और साधना के साथ घटना को अंजाम देता था। ऐसा करने के पीछे, कहा जाता है कि तंत्र-मंत्र और साधना के सहारे आसानी से काम हो जाता और पुलिस को शक भी नहीं होता था। फिलहाल गिरफ्तार आरोपियों से पुलिस पूछताछ कर अन्य मामले की डिटेल निकाल रही है।

जानकारी के मुताबिक बिहार के दरभंगा जिले में गुल्लोबाड़ा मार्केट में इस गैंग ने 10 लाख रुपए की रंगदारी की मांगी। रंगदारी मांगने की बात को लेकर व्यापारी थाने पहुंचे और मामले की जानकारी थानेदार को दी। जानकारी मिलते ही पुलिस मामले की जांच में लग गई और रंगदारों तक पहुंचने के लिए जाल बिछाया गया। फिर फरियादी ने पुलिस को बताया कि ये रंगदारी जिले के लिए कुख्यात बन चुका रौनक सिंह और रोशन ठाकुर कर रहा है। अपराधियों ने रंगदारी के साथ-साथ कारोबारी को धमकी देते हुए कहा कि अगर इस मामले की जानकारी पुलिस को हुई तो तुम्हें जान से मार देंगे। पुलिस के हाथ जब CCTV कैमरा लगा तो उसने जांच पड़ताल करते हुए घटना को अंजाम देने वाले मुख्य आरोपी 'तांत्रिक बाबा' को गिरफ्तार कर लिया। वहीं प्लानर सुरेश साहनी पुलिस की गिरफ्त में नहीं आ सका। जिसकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

गिरफ्तारी के बाद पूछताछ के दौरान तांत्रिक बाबा ने जो बताया उसे सुनने के बाद पुलिस का सर चकरा गया। तांत्रिक बाबा का कहना था कि किसी भी घटना को अंजाम देने से पहले श्मशान में विशेष पूजा-अर्चना की जाती थी फिर लाश को भभूत से तिलक करते हुए घटना को अंजाम देने के लिए निकला जाता था। ऐसा करने से बड़ी ही आसानी से घटना को अंजाम दे दिया जाता था और पुलिस को भी किसी पर शक नहीं होता था। इस बार पूजा सही से नहीं की गई। इसी की वजह से किस्मत ने धोखा दे दिया और रंगदारी मांगने के आरोप में गिरफ्तार हो गए।

आपको बता दें कि बिहार के दरभंगा जिले में छोटी-मोटी घटना को अंजाम देने वाला रौनक सिंह और सुरेश साहनी का मनोबल इतना बढ़ गया कि दिनदहाड़े बड़ी से बड़ी घटना को अंजाम देता था। हत्या लूट रंगदारी के दर्जनों मामले इन लोगों पर दर्ज हैं। इस गैंग में शामिल सभी लोगों को घटना को अंजाम देने से ज्यादा समस्या जेल जाने और पुलिस की गिरफ्तारी से होती थी। इसीलिए ये लोग घटना करने से पहले पूजा-पाठ और तंत्र-मंत्र के साथ टोटके पर विश्वास कर तांत्रिक के शरण में जाया करते थे। तो पुलिस की गिरफ्त में आया तांत्रिक महेश राय भी पहले अपराधी था पर पिछले कई वर्षों से श्मशान में रहकर पूजा पाठ करता है।

Read more: मिसाल: रिश्वत क्या...? पराए धन से दूर रहता है ये पुलिस वाला

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Unique Murder, do worship in Crematorium before
Please Wait while comments are loading...