बोधगया में रोहिंग्या मामले पर फिर दहलता मंदिर, अलकायदा के दो संदिग्ध गिरफ्तार

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

पटना। बम ब्लास्ट कर सैकड़ों लोगों की जान लेने वाले संदिग्ध आतंकी को बिहार के गया से गिरफ्तार किया गया है। दोनों संदिग्ध अपराधी से पूछताछ की जा रही है लेकिन अपनी पहचान बताने से वो इनकार कर रहे हैं। ये गिरफ्तारी बिहार के गया जिले के सिविल लाइन थाना क्षेत्र से हुई है। जहां दोनों राजेंद्र आश्रम के पास साइबर कैफे में बैठे थे। गिरफ्तार किए गए आतंकी में एक 2008 में हुए अहमदाबाद बम ब्लास्ट का मुख्य आरोपी है तो दूसरे संदिग्ध आतंकी की डिटेल निकाली जा रही है। दोनों की गिरफ्तारी के बाद ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि इन दोनों आतंकियों का संबंध अलकायदा से है।

पकड़े गए दोनों संदिग्धों में एक पहले अहमदाबाद में कर चुका है ब्लास्ट

पकड़े गए दोनों संदिग्धों में एक पहले अहमदाबाद में कर चुका है ब्लास्ट

जानकारी के मुताबिक ये दोनों गया में चल रहे पितृपक्ष मेले की भीड़ में किसी संगीन घटना को अंजाम देने की फिराक में थे। तभी पुलिस के द्वारा उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। गिरफ्तार किए गए तौसीफ अहमद खान और शमा खान से पुलिस लगातार पूछताछ कर रही है लेकिन दोनों कुछ भी बताने से इनकार कर रहे हैं। ऐसा कहा जा रहा है कि इन दोनों से एनआईए की टीम भी पूछताछ कर सकती है। पूछताछ के दौरान दोनों की पहचान गया के डोभी थाना क्षेत्र के रहने वाले के रूप में की गई है जो पिछले कई दिनों से साइबर कैफे के माध्यम से कई तरह की जानकारी भेज रहे थे। तभी पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि दो संदिग्धों द्वारा साइबर कैफे में बैठकर कई तरह के संदिग्ध मैसेज भेजे जा रहे हैं। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया और ये गिरफ्तारी पुलिस के लिए बड़ी कामयाबी साबित हुई। गिरफ्तार संदिग्ध आतंकियों की तस्वीर और दिल्ली पुलिस द्वारा तैयार किया गए अलकायदा आतंकियों के फोटो को मिलाया जा रहा है। हालांकि इस मामले में अब तक गया के अधिकारियों के द्वारा पुष्टि नहीं की गई है।

Rohingya Muslims से विवाद का क्या है कारण । वनइंडिया हिंदी
बोधगया में पिछले कई दिनों से थे दोनों सक्रीय, कर रहे थे ब्लास्ट की प्लानिंग!

बोधगया में पिछले कई दिनों से थे दोनों सक्रीय, कर रहे थे ब्लास्ट की प्लानिंग!

गया में चल रहे पितृपक्ष मेले में जहां देश विदेश से लोग पिंडदान करने के लिए आते हैं उसी भीड़ भाड़ वाले इलाके में ये दोनों आतंकी पिछले कई दिनों से सक्रीय थे। जिनकी गिरफ्तारी के बाद सुरक्षा और खुफिया एजेंसी बिल्कुल अलर्ट हो गई है। महाबोधि मंदिर के साथ-साथ गया के मुख्य शहर की अन्य जगह पर सुरक्षा का बेहतर प्रबंध किया गया है और हर आने-जाने वालों पर नजर रखी जा रही है।

NIA कर सकती है दोनों से पूछताछ

NIA कर सकती है दोनों से पूछताछ

इन दोनों की गिरफ्तारी के बाद ऐसा बताया जा रहा है कि दोनों संदिग्ध आतंकी म्यांमार में चल रहे रोहिंग्या मुसलमान के खिलाफ कार्रवाई को लेकर बोधगया स्थित म्यांमार मॉनेस्ट्री के खिलाफ किसी दिल दहलाने वाली घटना को अंजाम देने की फिराक में लगे हुए थे। वहीं पुलिस इन दोनों की गिरफ्तारी के बारे में विशेष जानकारी देने से कतरा रही है और जांच की बात बताते हुए दोनों से पूछताछ कर रही है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Two AlQaeda suspects arrest in Bihar
Please Wait while comments are loading...