• search
बिहार न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

Bihar: पुलिस ने पकड़ी दुर्लभ प्रजाति की Toke Gecko छिपकली, कीमत सुनकर उड़ जाएंगे होश

बिहार के पुर्णिया जिले में पुलिस ने दुर्लभ प्रजाति की Toke Gecko छिपकली एक मेडिकल स्‍टोर से पकड़ी है। इसकी कीमत डेढ़ करोड़ बताई जा रही है। दुर्लभ प्रजाति की छिपकली की तस्‍करी करने वाले 5 लोगों को अरेस्‍ट किया है।
Google Oneindia News

Rare Toke Gecko Lizard: बिहार पुलिस को एक बड़ी कामयाबी हासिल हुई है। बिहार के पूर्णिया जिले में पुलिस ने दुर्लभ प्रजाति की Toke Gecko छिपकली बरामद की है। जिसकी कीमत लगभग डेढ़ करोड़ है। पुलि एक मेडिकल स्टोर से बुधवार को दुर्लभ टोके गेको छिपकली और नशीला कफ सीरप जब्त किया गया। दुर्लभ प्रजाति की ये छिपकली जिसको खरीदना, बेचना गैर कानूनी है,उसे मेडिकल स्‍टोर वाला तस्‍करी करने के लिए लाया था।

मेडिकल स्‍टोर से दुर्लभ प्रजाति की छिपकली की बरामद

मेडिकल स्‍टोर से दुर्लभ प्रजाति की छिपकली की बरामद

कार्यवाहक पुलिस अधीक्षक सुरेंद्र कुमार सरोज ने बताया कि गुप्त सूचना के आधार पर पुर्णिया शहर के बैसी संभाग के एक स्टोर पर छापा मारा गया जहां से ये दुर्लभ प्रजाति की छिपकली और भारी मात्रा में कफ सिरप बरामद किया है।

पांच तस्‍करों को किया गया अरेस्‍ट

पांच तस्‍करों को किया गया अरेस्‍ट

पुलिस ने बताया दुकान का मालिक मौके से फरार होने में कामयाब हो गया गया लेकिन तलाशी के दौरान मिली जानकारी के आधार पर एक कथित तस्कर और उसके चार सहयोगियों को गिरफ्तार किया गया। हालांकि पुलिस ने गिरफ्तार किए गए लोगों की पहचान उजागर करने से इनकार कर दिया है।

 पश्चिम बंगाल से छिपकली तस्‍करी के लिए लाए थे

पश्चिम बंगाल से छिपकली तस्‍करी के लिए लाए थे

बैसी के उप-विभागीय पुलिस अधिकारी (एसडीपीओ) आदित्य कुमार ने कहा कि संदेह है कि आरोपी पश्चिम बंगाल से छिपकली लाए थे और वे इसे दिल्ली ले जाने की योजना बना रहे थे।उन्होंने कहा कि जब्त किए गए कफ सिरप के 50 पैक में नशीला प्रतिबंधित पदार्थ कोडीन मिला हुआ था।

कीमत लगभग 1.5 करोड़ रुपये

कीमत लगभग 1.5 करोड़ रुपये

कार्यवाहक पुलिस अधीक्षक सुरेंद्र कुमार सरोज ने बताया छिपकली का ग्रे मार्केट कीमत लगभग 1.5 करोड़ रुपये होगी। इसकी सूचना वन अधिकारियों को दी गई। वन विभाग संदिग्ध तस्करों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई भी शुरू करेगा।

सेक्‍स पॉवर बढ़ाने के लिए किया जाता है इस्‍तेमााल

सेक्‍स पॉवर बढ़ाने के लिए किया जाता है इस्‍तेमााल

बता दें दुर्लभ प्रजाति की इस टोके जेकॉस छिपकली को वन्यजीव संरक्षण अधिनियम 1972 की अनुसूची III में अत्यधिक संकटग्रस्त के रूप में लिस्‍ट किया गया है।बता दें दुर्लभ प्रजाति की इस टोके जेकॉस छिपकली को वन्यजीव संरक्षण अधिनियम 1972 की अनुसूची III में अत्यधिक संकटग्रस्त के रूप में लिस्‍ट किया गया है। चीन समेत अन्‍य देशों मे इस छिपकली की बड़ी डिमांड है। इस छिपकली की पाउडर का इस्तेमाल सेक्स पावर बढ़ाने में होता है। यहीं वजह है कि इस छिपकली की तस्‍करी होती है और उन्‍हें मुंह मांगी कीमत मिलती है।

VIDEO:घर के सामने से महिला की चप्‍पल लेकर भागा सांप, डरने के बजाय लोग लगाने लगे ठहाकेVIDEO:घर के सामने से महिला की चप्‍पल लेकर भागा सांप, डरने के बजाय लोग लगाने लगे ठहाके

Comments
English summary
Police caught rare species Toke Gecko lizard, Price is around 1.5 crore
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X