• search
भोपाल न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

भोपाल के हमीदिया अस्पताल में बिजली गुल होने पर कोरोना के तीन मरीजों की मौत

|

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में सबसे पुराना व सबसे बड़े सरकारी अस्पताल हमीदिया में घोर लापरवाही का मामला सामने आया है। यहां पर बिजली गुल होने के कारण वेंटिलेटर सपोर्ट वाले कोरोना के तीन मरीजों की मौत हो गई। मामल उजागर होने पर मध्य प्रदेश सरकार ने न केवल पूरे प्रकरण की जांच के आदेश दिए हैं बल्कि हमीदिया अस्पताल के मेंटिनेंस इंजीनियर को बर्खास्त भी कर दिया है।

    Bhopal Covid Hospital में बिजली जाने से 3 मरीजों की मौत, CM ने दिए जांच के आदेश | वनइंडिया हिंदी

    Three corona patients died in Bhopals Hamidia Hospital

    जानकारी के अनुसार हमीदिया अस्पताल करीब सौ साल पुराना है। यहां कोरोना वायरस को लेकर अलग से बनाए गए वार्ड में 11 मरीज भर्ती थे। इनमें से गंभीर हालत के कारण चार मरीजों को वेंटिलेटर पर ले रखा था। बाकी ऑक्सीजन सपोर्ट पर थे। अचानक अस्पताल की बिजली गुल हो गई। स्टाफ ने तुरंत जनरेटर चलाया।

    जनरेटर भी एयर लेने के कारण महज दस मिनट में जवाब दे गया। बिजली जाने के बाद मोबाइल की रोशनी में मरीजों का इलाज किया जाने लगा, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। एक के बाद एक करके वेंटिलेटर सपोर्ट वाले कोरोना वायरस के तीन मरीजों की मौत हो गई। चार में से केवल एक मरीज को बचाया जा सका।

    भोपाल : 3 माह बाद नौकरी से हटाने पर प्रदर्शन कर रहे कोरोना योद्धाओं पर लाठीचार्ज, 15 घायलभोपाल : 3 माह बाद नौकरी से हटाने पर प्रदर्शन कर रहे कोरोना योद्धाओं पर लाठीचार्ज, 15 घायल

    English summary
    Three corona patients died in Bhopal's Hamidia Hospital
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X