• search
भोपाल न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

गुना मुठभेड़ में शहीद पुलिसकर्मियों को 1-1 करोड़ का मुआवजा, ग्वालियर आईजी पर गिरी गाज

|
Google Oneindia News

भोपाल, 14 मई। गुना में बदमाशों से हुई मुठभेड़ में तीन पुलिसकर्मियों की गोली मारकर हत्या कर दी गई। पुलिस टीम में शामिल ड्राइवर गंभीर रूप से घायल है। घटना शनिवार तड़के 3 से 4 के बीच की बताई जा रही है। पुलिस की जवाबी फायरिंग में शिकारी नौशाद मेवाती मारा गया है। जानकारी के मुताबिक एसआई राज कुमार जाटव के हाथ में गोली लगने के बाद भी उन्होंने कई राउंड फायर किए।

गुना जिले के आरोन थाना क्षेत्र ‌में 7-8 मोटरसाइकिल सवार बदमाशों की सूचना पुलिस को मिली थी। पुलिस ने बदमाशों को चारों तरफ से घेर लिया। जिस पर बदमाशों ने फायरिंग शुरु कर दी। जिसमें पुलिस परिवार के जाबांज एसआई राजकुमार जाटव,हवलदार नीलेश भार्गव और सिपाही संतराम जी की मौत हो गई है।

    Guna Police Team Attack: एक्शन में CM Shivraj, Gwalior IG पर भी गिरी गाज | वनइंडिया हिंदी
    सरकार तीनों पुलिसकर्मियों के परिवार को देगी 1-1 करोड़ का मुआवजा

    सरकार तीनों पुलिसकर्मियों के परिवार को देगी 1-1 करोड़ का मुआवजा

    घटना की जानकारी मिलने के बाद मुख्यमंत्री ने प्रशासन पर नाराजगी जताते हुए उच्च स्तरीय बैठक बुलाई हैं। जिसमें उन्होंने तीनों पुलिसकर्मियों के परिवार वालों को एक-एक करोड़ का मुआवजा देने का ऐलान किया है।मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुना में देर रात घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया। उन्होंने कहा कि हमारे पुलिस के मित्रों ने शिकारियों का मुकाबला करते हुए शहादत दी है।इस घटना में दोषी अपराधियों के खिलाफ ऐसी कार्रवाई होगी जो इतिहास में उदाहरण बनेगी। अपराधियों की पहचान हो गई है। घटना की पूरी जांच हो रही है।

    घटना में शहादत देने वाले तीनों पुलिस के साथी SI श्री राजकुमार जाटव,आरक्षक श्री नीरज भार्गव,आरक्षक श्री संतराम की शहादत व्यर्थ नहीं जाएगी।इन्होंने कर्तव्य की बलिवेदी पर अपने जीवन को न्यौछावर किया है। उन्हें शहीद का दर्जा देकर 1-1 करोड़ रु की सम्मान निधि परिवार को दी जाएगी।

    परिवार के एक सदस्य को शासकीय सेवा में लिया जाएगा। पूरे सम्मान के साथ शहीद पुलिसकर्मियों का अंतिम संस्कार किया जाएगा। घटना के बाद पहुंचने में देरी करने पर ग्वालियर आईजी को तत्काल हटाने का फैसला किया है।

    पूरी घटना पर एसपी ने क्या कहा ?

    पूरी घटना पर एसपी ने क्या कहा ?

    आरोन क्षेत्र में हुई घटना को लेकर SP राजीव कुमार मिश्रा का कहना है कि सगा बरखेड़ा की तरफ से बदमाशों के जाने की सूचना मिली थी। इनकी घेराबंदी के लिए 3-4 पुलिस की टीम लगाई गई थी। शहरोक के जंगल में बदमाश चार पांच बाइकों से जाते हुए दिखाई दिए। पुलिस ने घेराबंदी कर,जब बदमाशों को पकड़ने की कोशिश की, तो उन्होंने फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस ने भी जवाबी फायरिंग की।

    मुठभेड़ में तीन पुलिसकर्मियों ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। शिकारियों के पास से 5 हिरण और एक मोर के अवशेष जब्त किए हैं। शहीद एसआई राज कुमार जाटव का अंतिम संस्कार अशोकनगर में होगा। आरक्षक संतराम का श्योपुर में और आरक्षक राजीव भार्गव का अंतिम संस्कार गुना में किया जाएगा शहीदों के अंतिम संस्कार में जिला प्रभारी मंत्री भी शामिल होंगे।

    घटना के बाद गृहमंत्री ने कह दी बड़ी बात

    घटना के बाद गृहमंत्री ने कह दी बड़ी बात

    गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा (Dr. Narottam Mishra) ने बताया कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान(Shivraj Singh Chouhan) गुना मामले की मॉनिटरिंग कर रहे हैं। मैंने सख्त कार्यवाही के निर्देश दिए हैं, ऐसी कार्यवाही जो बाकी अपराधियों के लिए नजीर बने। अपराधी कोई भी हो पुलिस से बचके कहीं नहीं जा सकेगा।

    नेता प्रतिपक्ष ने मांगा गृह मंत्री का इस्तीफा

    नेता प्रतिपक्ष ने मांगा गृह मंत्री का इस्तीफा

    नेता प्रतिपक्ष डॉक्टर गोविंद सिंह ने कहा कि गुना की घटना दुखद है इससे स्पष्ट है कि प्रदेश में कानून व्यवस्था चौपट हो गई है। अपराधियों के हौसले इतने बुलंद हैं कि वह पुलिसकर्मियों तक को नहीं छोड़ रहे हैं। गुना की घटना के बाद तो गृह मंत्री को अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए।

    यह भी पढ़ें- पुलिस की इंसास रायफल भी लूट ले गए बदमाश, गृहमंत्री बोले-'ऐसी सजा देंगे की नजीर बन जाएगी'

    Comments
    English summary
    Compensation of 1-1 crore to policemen martyred in Guna encounter, big decision of Shivraj government
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X