• search
अलवर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

Alwar : 13 FIR के बदले मांगे 13 लाख, ACB टीम को देख तीसरी मंजिल से पड़ोसी की छत पर कूदा DSP

|

अलवर। राजस्थान भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) की टीम ने बुधवार को अलवर जिले में बड़ी कार्रवाई की है। एसीबी जयपुर की टीम ने अलवर (ग्रामीण) उप पुलिस अधीक्षक सपात खान (DSP Sapat Khan) और उनके ड्राइवर कांस्टेबल असलम खान को तीन लाख रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ा है। डीएसपी सपात खान और कांस्टेबल असलम खान ने यह राशि दर्ज मुकदमों में मदद करने के नाम पर ली थी। आरोपियों ने 13 मामलों के 13 लाख रुपए घूस की मांग की थी, जिसमें से 3 लाख रुपए पहली किश्त थी।

जयपुर आकर की एसीबी को शिकायत

जयपुर आकर की एसीबी को शिकायत

जयपुर एसीबी के एएसपी संजीव नैन ने बताया कि अलवर जिले के तिजारा के गांव बेरला निवासी राशिद खान ने पांच जनवरी को एसीबी मुख्यालय जयपुर आकर शिकायत दी कि उसके और परिवार के खिलाफ राजनीतिक रंजिश की वजह से मारपीट, दुष्कर्म, चोरी सहित करीब 13 अलग-अलग मामले दर्ज हैं। इन मामलों में गिरफ्तार नहीं करने व नाम हटाने की एवज में अपने ड्राइवर कांस्टेबल असलम के जरिए अलवर ग्रामीण डीएसपी सपात खान, अरावली विहार थानाधिकारी जहीर अब्बास एवं डीएसटी प्रभारी अलवर की ओर से 13 लाख रुपए की रिश्वत मांगी जा रही है।

 एक दिन पहले ही अलवर पहुंची टीम

एक दिन पहले ही अलवर पहुंची टीम

पांच जनवरी को शिकायत मिलने के तुरंत बाद ही अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक स्पेशल इंवेस्टिगेशन विंग संजीव नैन के नेतृत्व में उप अधीक्षक चित्रगुप्त महावर, एसआई मीना वर्मा, एसआई विनोद कुमार, हैड कांस्टेबल अनिल कुमावत, कांस्टेबल अनिल यादव, रामफूल सिंह, संदीप कुमार, मुकेश कुमार, गिरधारी, मनोज कुमार व हिम्मत सिंह की टीम को अलवर पहुंच गई।

 डीएसपी के घर से तीन लाख रुपए बरामद

डीएसपी के घर से तीन लाख रुपए बरामद

बुधवार सुबह चालक कांस्टेबल असलम खान के जरिए परिवादी से तीन लाख रुपए लेते अलवर ग्रामीण डीएसपी सपात खान को गिरफ्तार कर लिया। डीएसपी के घर से रिश्वत के तीन लाख रुपए भी बरामद हो गए। कांस्टेबल ने डीएसपी के निजी आवास पर परिवादी से रुपए लिए तो इशारा पाकर एसीबी टीम ने दबिश दी। पांच मिनट में ही टीम वहां पहुंच गई। एसीबी टीम जैसे ही घर में घुसी तो डीएसपी को शक हो गया और वह घर की तीसरी मंजिल पर जाकर पड़ोसी की छत पर चला गया। लेकिन, उसी समय एसीबी की टीम पड़ोसी के घर पहुंच गई और उसे पकड़ लिया। हालांकि डीएसपी बाद में यह कहता रहा कि उसे फंसाया है। सच्चाई सामने आ जाएगी।

 अरावली विहार एसएचओ की भूमिका संदिग्ध

अरावली विहार एसएचओ की भूमिका संदिग्ध

एएसपी संजीव नैन के अनुसार परिवादी ने अपनी शिकायत में अलवर जिले के ही अरावली विहार पुलिस थानाधिकारी जहीर अब्बास के नाम का भी जिक्र किया है। पूरे प्रकरण में एसीबी टीम एसएचओ जहीर अब्बास की भूमिका संदिग्ध मानकर जांच कर रही है। एसएचओ को अभी नहीं पकड़ा गया है। कांस्टेबल असलम खान परिवादी से तीन लाख की रिश्वत लेने के लिए उसे डीएसपी के एनइबी स्थित घर लेकर गया था। फिर घूस लेकर रुपए दूसरे मंजिल के एक कमरे में रख दिए थी।

Rajasthan : अलवर DSP सपात ख़ान व उनके ड्राइवर को तीन लाख की घूस लेते जयपुर ACB ने पकड़ा

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Alwar DSP Sapat Khan And Constable Aslam Khan RS Three Lakh Bribe Case Latest Update
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X