• search
इलाहाबाद / प्रयागराज न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

प्रयागराज: छात्रों ने टीचरों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा, छात्रा के साथ छेड़छाड़ का किया था विरोध

|

प्रयागराज। उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में छात्रा द्वारा टीचर की पिटाई करने का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो में छात्रों ने खिड़कियां तोड़ डाली और टीचरों को दौड़ा-दौड़ाकर लाठी डंडों से पीटा। दरअसल, सोरांव इलाके के आदर्श जनता इंटर कॉलेज बलकरनपुर में छात्रा के साथ छेड़खानी करने वाले छात्रों को टीचर ने पीट दिया था। इससे नाराज छात्रों ने परिजनों से इसकी शिकायत की। इसके बाद कुछ छात्र और परिजन कॉलेज के अंदर घुसकर टीचर को जबरदस्त तरीके से पीटा।

 क्या है मामला

क्या है मामला

जानकारी के अनुसार, मामला सोरांव थाना क्षेत्र के आदर्श जनता इंटर कॉलेज के प्रांगण का है। मंगलवार को कॉलेज में सीएचसी सोरांव द्वारा हेल्थ चेकअप का कैंप लगाया गया था। वहां छात्र-छात्राओं की काफी भीड़ थी। इसी दौरान कुछ लड़के छात्राओं के साथ छेड़खानी करने लगे। छात्राओं ने इसकी शिकायत टीचरों से की तो उन्होंने कुछ लड़कों को पीट दिया। जिसके बाद लड़के वहां से धमकी देता हुआ चला गए और कुछ देर बाद 15-20 युवकों के साथ वापस आया। सभी लोग प्रशासनिक कक्ष में बैठे टीचक शिव बाबू पांडेय एवं श्रीनाथ कोरी के पास पहुंचे और हाथापाई करने लगे। दोनों ने खुद को एक कमरे में बंद कर लिया तो युवकों ने लोहे की रॉड और डंडों से खिड़की तोड़ दी और दोनों अध्यापकों को जमकर पीटा।

लाठी-डंडों से जमकर पीटा

लाठी-डंडों से जमकर पीटा

इस दौरान टीचरों ने भागने की कोशिश भी की, लेकिन लोगों ने उन्हें पकड़ कर जमीन पर गिरा दिया और उनके ऊपर लाठी-डंडों की बरसात कर दी। हालांकि, इस दौरान वह अपने आपको बचाने की गुहार भी लगाते रहे। लेकिन किसी ने भी उनको नहीं बख्शा। उन्होंने सीसीटीवी, फर्नीचर आदि भी तोड़ डाला और वहां रखे तमाम कागजात फाड़ दिए। फिलाह पुलिस ने दोनों घायल शिक्षकों को इलाज के लिए सोरांव सीएचसी भेजा, जहां से उन्हें जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया।

क्या कहा पुलिस ने

क्या कहा पुलिस ने

वहीं, घायल शिक्षक शिव बाबू पांडेय ने छह हजार रुपए नकदी छीनने का आरोप लगाते हुए सात नामजद समेत 10-20 अज्ञात लोगों के खिलाफ तहरीर दी, जिसके आधार पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया। इस मामले को लेकर प्रयागराज के एसपी एनके सिंह का कहना है कि स्कूल में एक स्वास्थ्य शिविर चल रहा था। जानबूझकर या अनजाने में कुछ लड़के, कुछ लड़कियों पर टूट पड़े। एक शिक्षक ने हस्तक्षेप किया और लड़कों को डांटा। इसके बाद, लड़कों ने अपने अभिभावकों को बुलाया, स्कूल में तोड़फोड़ की और शिक्षक की पिटाई की। जल्द ही गिरफ्तारी की जाएगी।

English summary
A teacher was thrashed by a group of male students
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X