• search
अलीगढ़ न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

दिल्ली हिंसा: पीड़ितों की मदद करेगा एएमयू, स्टाफ और छात्र जुटा रहे धनराशि

|

अलीगढ़। दिल्ली हिंसा के पीड़ितों की मदद के लिए अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी आगे आया है। इंतजामिया की ओर से सेवानिवृत्त कर्मियों और पूर्व छात्रों से दिल्ली में हिंसा प्रभावित लोगों के पुनर्वास के लिए स्वैच्छिक तौर पर दान देने की अपील की गई है। यह मदद सभी धर्म और जाति के लोगों के लिए होगी। वित्त अधिकारी प्रो. एसएम जावेद अख्तर की ओर से अपील की गई, जिसमें कहा गया है कि हिंसा में जान-माल का बहुत नुकसान हुआ है। पीड़ितों की मदद के लिए एएमयू ने भारतीय व विदेशी दानदाताओं के लिए अलग-अलग खाता नंबर जारी किए हैं।

स्टाफ के साथ छात्र-छात्राएं जमा कर रहे धनराशि

स्टाफ के साथ छात्र-छात्राएं जमा कर रहे धनराशि

एएमयू टीचर्स एसोसिएशन, एएमयू नॉन टीचिंग स्टाफ, रेजिडेंट डॉक्टर्स के साथ छात्र-छात्राओं की ओर से भी हॉल-टू-हॉल भी धनराशि जमा की जा रही है। यही नहीं यूनिवर्सिटी के छात्र छात्राएं शहर में लोगों के घर-घर जाकर भी मदद मांग रहे हैं। एएमयू मेडिकल कॉलेज के रेजिडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ. हमजा मलिक ने बताया कि एसोसिएशन की ओर से जो 25 लाख रुपए की धनराशि इकट्ठा की जाएगी। वह किसी एक समुदाय के लिए नहीं, बल्कि हिंदू, मुस्लिम, सिख, ईसाई सभी पीड़ितों के लिए होगी। छात्र संघ के पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष फैजुल हसन ने बताया कि एएमयू में छात्रों ने अपनी पॉकेट मनी से दिल्ली पीड़ितों के लिए चंदा जुटाया। हॉल टू हॉल चंदा जुटाकर पांच लाख रुपये से ज्यादा इकट्ठा किए गए हैं।

एक करोड़ रुपए तक जमा होने की उम्मीद

एक करोड़ रुपए तक जमा होने की उम्मीद

एएमयू रजिस्ट्रार अब्दुल हमीद ने बताया कि एएमयू की ओर से दो खाता नंबर जारी किए गए हैं। इन खातों में देश और विदेश से अलीग बिरादरी के लोग आर्थिक मदद कर रहे हैं। उम्मीद है कि एक करोड़ रुपए से भी अधिक धनराशि एकत्रित हो जाएगी। इसके बाद एक कमेटी दिल्ली जाकर पीड़ितों की मदद करेगी। बता दें, दिल्ली हिंसा में मरने वालों की संख्या बढ़कर 53 हो चुकी है। अधिकारियों के अनुसार, अब तक सिर्फ जीटीबी अस्पताल में ही 44 लोगों की मौत हो चुकी है। इसके अलावा 5 लोगों की मौत मनोहर लोहिया अस्पताल में, 3 मौतें लोक नायक जय प्रकाश अस्पताल में और एक व्यक्ति की मौत जग प्रवेश चंद्र अस्पताल से हुई है।

1800 से अधिक लोग हिरासत में

1800 से अधिक लोग हिरासत में

दिल्ली पुलिस ने हिंसा की इन घटनाओं में 1800 से अधिक लोगों को हिरासत में लिया है, जबकि 47 आर्म्स एक्ट के मामले पुलिस ने दर्ज किए हैं। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच हिंसा के इस मामले की जांच कर रही है। पुलिस ने लोगों से अपील की है कि इस हिंसा से जुड़े वीडियो-फोटो किसी के पास हों, तो वे पुलिस के साथ साझा करें। पुलिस ने कहा है कि प्रत्यक्षदर्शियों की पहचान गुप्त रखी जाएगी।

अलीगढ़ में CAA का विरोध करने वाली महिलाओं ने पुलिस के सामने किया बड़ा खुलासा

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
aligarh muslim university to help delhi violence victims
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X