• search
अजमेर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

7 फेरे लेने के बाद दूल्हे को बैरंग लौटाया, विदाई के समय बोली दुल्हन-वापस ले जा बारात, नहीं करनी तुझसे शादी

By नवीन वैष्णव
|

Ajmer News, अजमेर। लाडो की शादी से घर-परिवार में खुशी का माहौल था। शाम को कोटा से बारात आई। खूब स्वागत सत्कार हुआ। बिन बाप की इस बेटी की शादी में हर किसी ने उत्साह से हिस्सा लिया। रात को सात फेरे हुए और विदाई का वक्त आया तो मामला बिगड़ गया। शादी टूट गई और दूल्हे विशाल को बैरंग लौट जाना पड़ा।

Ajmer Bride Refused for go with Kota Groom

Ajmer Bride व उसके परिजनों ने दूल्हे पक्ष पर दहेज मांगने का आरोप लगाया है। जिसके अनुसार शनिवार तड़के विदाई के समय विशाल और उसके परिजनों ने 3 लाख देने पर ही डोली उठाने की बात कही। जिस पर दुल्हन के घरवाले विशाल व उसके पिता के आगे हाथ जोड़कर मिन्नतें करने लगे। लेकिन दूल्हे पक्ष का दिल नहीं पसीजा और वे अपनी मांग पर अड़े रहे।

डोली उठने से पहले बेटी की अर्थी उठी तो कोई नहीं रोक पाया आंसू, फ्रेंड व ASI की भी मौत

इस बात का पता जब दुल्हन को लगा तो उसने कड़ा फैसला लेते हुए ससुराल जाने से इंकार कर दिया। इसके बाद समारोह स्थल में हंगामा मच गया साथ ही बारात को बिना दुल्हन के ही लौटना पड़ा। दुल्हन का कहना है उसके पिता की काफी समय पहले ही मृत्यु हो चुकी है। उसकी मां ने मजदूरी कर उसका पालन पोषण किया है। इसके बावजूद भी माँ ने शादी में 4 लाख से ज्यादा खर्च किए हैं। लेकिन विशाल के घरवालों की दहेज़ की मांग बढ़ती ही गई। लिहाजा उसने दहेज़ लोभियों के साथ जीवन न बिताने का फैसला ले लिया और बारात लौटा दी। मामले की सूचना पुलिस को भी दे दी गई है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Bride Refused to go with Kota Groom due to dowry demand
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X