• search
आगरा न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

बदमाश बदन सिंह साथी समेत पुलिस एनकाउंटर में हुआ ढेर, एक लाख रुपए का था इनामी

|
Google Oneindia News

आगरा, 22 जुलाई: आगरा पुलिस का बुधवार रात बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस ने एक लाख रुपए के कुख्यात बदमाश बदन सिंह को मुठभेड़ में ढेर कर दिया। मुठभेड़ में बदन सिंह का एक साथी भी गंभीर रूप से जख्मी हुआ था, जिसे इलाज के दौरान डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। हालांकि खबर लिखे जाने तक बदन के साथी की पहचान नहीं हो सकी है। बता दें, बदन सिंह पांच करोड़ की फिरौती के लिए डॉक्टर उमाकांत गुप्ता का अपहरण किया था।

    UP Police Encounter: Badan Singh को Agra Police ने किया ढेर, 1 लाख का था ईनाम | वनइंडिया हिंदी

    one lakh rewarded criminal badan singh and his aide shot dead in agra police encounter

    मुठभेड़ के दौरान एसएसपी आगरा एवं एसपी वेस्ट व अन्य अधिकारियों की बुलेट प्रूफ जैकेट में गोली लगी। पुलिस टीम के 2 सदस्य भी मुठभेड़ में घायल हुए हैं। वहीं, एसएसपी आगरा मुनिराज ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि बुधवार रात करीब नौ बजे पुलिस जगनेर इलाके में चेकिंग कर रही थी। इसी दौरान दो लोग बाइक पर आए। जब उन्हें रोकने का प्रयास किया तो वे भागने लगे। पुलिस ने जब पीछा करते हुए घेराबंदी की तो दोनों ने फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस की जवाबी फायरिंग में गोली लगने से दोनों बदमाश घायल हो गए।

    घायल बदमाशों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। एसएसपी ने बताया कि मुठभेड़ में मारा गया बदमाश बदन सिंह पेशवर अपराधी था दस्यु केशव गुर्जर के लिए काम करता था। बदन सिंह पर हत्या, किडनैपिंग, फिरौती मांगने जैसे गंभीर मुकदमे दर्ज हैं। पुलिस के मुताबिक, बदन सिंह इससे पहले भी तीन किडनैपिंग की वारदातों को अंजाम दे चुका था। चौथी बार उसने डॉक्टर उमाकांत की किडनैपिंग की थी और 5 करोड़ की फिरौती मांगी थी।

    बता दें कि ट्रांसयमुना कॉलोनी निवासी डॉ. उमाकांत गुप्ता के अपहरण की साजिश धौलपुर के बदमाश बदन सिंह ने रची थी। उसकी साथी युवती संध्या उर्फ मंगला ने अंजलि बनकर डॉक्टर से बात की थी। उनसे नौकरी के बहाने मिली थी। इसके बाद अगवा कर ले गई थी। हालांकि पुलिस ने बिना फिरौती दिए ही डॉक्टर उमाकांत गुप्ता को 31 घंटे बाद ही सही सलामत बरामद कर लिया था।

    ये भी पढ़ें:- लाडली बेटी को पुलिस की वर्दी में देखना चाहते थे पिता, इच्छा पूरी करने लिए पूजा 22 साल की उम्र में बनीं IPSये भी पढ़ें:- लाडली बेटी को पुलिस की वर्दी में देखना चाहते थे पिता, इच्छा पूरी करने लिए पूजा 22 साल की उम्र में बनीं IPS

    बता दें, एडीजी जोन राजीव कृष्ण ने बदन सिंह पर एक लाख रुपए का इनाम घोषित किया था। बदन सिंह को पकड़ने के लिए पुलिस की एक टीम धौलपुर में ही डेरा डाले हुए थी। बीहड़ में पुलिस बदन सिंह की तलाश कर चुकी थी। मगर, वह हाथ नहीं आ रहा था। मौसम खराब होने की वजह से पुलिस के लिए बीहड़ में जाना मुश्किल हो रहा था लेकिन कछपुरा क्षेत्र में मुठभेड़ में वह मारा गया।

    English summary
    one lakh rewarded criminal badan singh and his aide shot dead in agra police encounter
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X