• search
आगरा न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

दो पत्नियों के झगड़े से परेशान था सफाईकर्मी, फिर दूसरी पत्नी की बेरहमी से हत्या

|

आगरा। 15 जनवरी को प्रीति जाटव से लूट के बाद हुई हत्या का आगरा पुलिस ने चौंकाने वाला खुलासा किया है। पुलिस ने प्रीति की हत्या और लूट की झूठी सूचना देने के आरोप में उसके पति नाहर सिंह को गिरफ्तार किया है। नाहर सिंह ने पुलिस पूछताछ में जो वजह बताई वो हैरान करने वाली है। दरअसल, नाहर सिंह ने प्रीति से दूसरी शादी की थी। प्रीति का उसकी पहली पत्नी के साथ झगड़ा होता था। इसी से परेशान होकर उसने प्लानिंग के तहत घटना को अंजाम दिया।

प्रीति से दूसरी शादी की थी नाहर सिंह

प्रीति से दूसरी शादी की थी नाहर सिंह

एसपी देहात रवि कुमार ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि बड़ा बैनई गांव निवासी नाहर सिंह (35) तहसील में सफाई कर्मी है। उसकी पहली शादी 10 साल पहले शशि से हुई थी। उससे तीन बच्चे हैं। वह बीमार रहने लगी थी। शशि और बच्चों की देखभाल के लिए नाहर सिंह डेढ़ साल पहले प्रीति से शादी कर ली। नाहर सिंह ने पुलिस पूछताछ में बताया कि शादी के डेढ़ महीने बाद ही प्रीति का शशि से झगड़ा होने लगा। उसने शशि के साथ रहने से इंकार कर दिया। इस पर उसने उसे एत्मादपुर कस्बा केसत्ता मोहल्ले में किराए का घर दिला दिया।

प्लांनिग के तहत की प्रीति की हत्या

प्लांनिग के तहत की प्रीति की हत्या

इसके बाद भी झगड़ा बंद न हुआ। दोनों पूरा वेतन मांगती थी। इस बात पर भी झगड़ा होता था कि उसे ज्यादा, मुझे कम समय क्यों देते हो? प्रीति को कोई संतान नहीं हुई थी। जिसके बाद नाहर सिंह ने प्रीति की हत्या की प्लांनिग बनाई। प्लांनिग के तहत नाहर सिंह ने प्रीति से सात जनवरी को 40 हजार रुपए बल्केश्वर स्थित बैंक से निकाले थे। नाहर सिंह ने इसी रकम की लूट की कहानी बनाई थी। नाहर सिंह ने पूछताछ में बताया कि गांव से पहले उसने प्रीति को बाइक से उतारा। पत्थर लेकर उस पर ताबड़तोड़ प्रहार किए। उसकी मौत हो जाने के बाद खुद को सिर में धीरे से पत्थर मारा। इसके बाद जोर से चिल्लाया कि पत्नी की हत्या हो गई। उसने 37 हजार रुपए छिपा दिए थे। उसकी साजिश यह साबित करने की थी कि वारदात बदमाशों ने की है।

पुलिस को दी थी झूठी सूचना

पुलिस को दी थी झूठी सूचना

15 जनवरी दिन बुधवार को निहाल सिंह ने 100 नंबर पर कॉल कर पुलिस को बताया कि वह एत्मादपुर स्थित अपने घर से पत्नी के साथ 9:30 बजे निकला था। नाहर एत्मादपुर से बाइक पर प्रीति को गांव ले जा रहा था। तभी रास्तें में बदमाशों ने बाइक सवार चार-पांच बदमाशों ने उन पर हमला कर दिया और 40 हजार लूट लिए हैं। जब तक पुलिस मौके पर पहुंची तब तक प्रीति की मौत हो चुकी थी और वहीं घायल नाहर सिंह को पुलिस ने इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया था।

सास ने तहरीर दी, पुलिस को सुराग मिला

सास ने तहरीर दी, पुलिस को सुराग मिला

पुलिस की कहानी को सहारा मिला प्रीति के मां विद्यादेवी के आने पर। वह भगवान नगर झोपड़ी बल्केश्वर में रहती हैं। भाजपा नेता कुंदनिका शर्मा के साथ थाना पहुंची थीं। उन्होंने बताया कि हत्या नाहर सिंह ने ही की है। उसने 7 सितंबर 2018 को झूठ बोलकर शादी की थी। खुद को अविवाहित बताया था। शादी के बाद प्रीति को नौकरानी की तरह रखा। पहली बीवी और उसके बच्चों का खाना बनाने, कपड़े धोने का काम उसी से करवाता था। इस पर पुलिस को बड़ा सहारा मिल गया नाहर से पूछताछ करने का। उससे पूछताछ की तो राज खुल गया।

English summary
Husband murdered his second wife in agra
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X