• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Fact Check: हाथरस मामले में समीर खान की गिरफ्तारी का क्या है सच?

|

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के हाथरस में हुई कथित गैंगरेप और हत्या की घटना को लेकर सोशल मीडिया पर कई तरह के दावे किए जा रहे हैं। एक पोस्टर वायरल हो रहा है, जिसमें समीर खान नाम के शख्स के हाथरस केस में गिरफ्तार होने का दावा किया जा रहा है। इसमें समीर खान को कांग्रेस का कार्यकर्ता बताया गया है। इसकी खोजबीन पर पता चलता है कि जो दावेंइस फोटो को लेकर हैं, उनमें कोई सच्चाई नहीं है।

उत्तरप्रदेश के हाथरस में एक दलित लड़की के साथ जो दरिंदगी हुई, उससे पूरा देश गुस्से में है. हालांकि उसकी मेडिकल रिपोर्ट पर पुलिस का कहना है कि उसके साथ गैंगरेप की घटना नहीं हुई थी. उसकी मौत गले की हड्डी टूटने से हुई थी. इसके साथ ही एक बड़ी बात भी सामने आई है वो है कि सोशल मीडिया पर एक फोटो वायरल हो रही है, जिसमें बताया गया है कि यह गैंगरेप पीड़ित लड़की है. लेकिन असल में जो फोटो दिखाई गई है, वह लड़की चंडीगढ़ की मनीषा है. Also Read - बसपा प्रमुख मायावती ने कहा- रवैया बदले योगी सरकार, वरना... जानिए कौन है मनीषा यादव, जिसकी तस्वीर हो रही वायरल Also Read - छत्तीसगढ़ सरकार में मंत्री ने पहले दुष्कर्म को कहा छोटी घटना, वीडियो वायरल होने पर दी ये सफाई मनीषा यादव, जिसकी तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है उसकी दो साल पहले बीमारी के कारण मौत हो गई थी. अब उसकी तस्वीर को हाथरस पीड़िता की तस्वीर बताकर वायरल किया जा रहा है और उसके लिए न्याय की मांग की जा रही है. अनजाने में वायरल हो रही इस तस्वीर के मनीषा के परिजन दुखी हैं. सोशल मीडिया पर आम पब्लिक ही नहीं, बल्कि बड़े-बड़े सेलिब्रिटी भी चंडीगढ़ की मनीषा की तस्वीर को वायरल करने में लगे हुए हैं

समीर खान नाम का ये शख्स मध्य प्रदेश के सतना का है और रेप के आरोप में गिरफ्तार भी हुआ है। हालांकि इसका हाथरस से किसी तरह का कोई लिंक नहीं है। वहीं काग्रेस के सतना के नेताओं ने उसके कांग्रेस से जुड़े होने की बात को भी पूरी तरह से नकार दिया है। हाथरस के मामले में पुलिस ने चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है और इनकी पहचान रामू, संदीप, लवकुश और रवि के तौर पर हुई है।

हाल ही में चंडीगढ़ की एक लड़की की फोटो भी वायरल हुई थी, जिसके बारे में कहा जा रहा है कि ये हाथरस में दरिंदगी का शिकार हुई लड़की है। ये तस्वीर भी गलत है। दरअसल जिस लड़की को हाथरस की पीड़िता बताकर सोशल मीडिया पर शेयर किया जा रहा है, उसकी दो साल पहले बीमारी के कारण मौत हो गई थी। अब उसकी तस्वीर को हाथरस पीड़िता की तस्वीर बताकर वायरल किया जा रहा है और उसके लिए न्याय की मांग की जा रही है। अनजाने में वायरल हो रही इस तस्वीर के मनीषा के परिजन दुखी हैं। सोशल मीडिया पर आम लोग ही नहीं कई सेलिब्रिटी ने भी चंडीगढ़ की लड़की को तस्वीर को शेयर किया है।

ये भी पढ़ें- fact check: वायरल फोटो में कटीले तार लपेटे महिला नहीं कर रही हाथरस घटना का विरोध, जानिए तस्वीर का सच

Fact Check

दावा

मध्य प्रदेश के समीर को बताया जा रहा हाथरस केस का आरोपी

नतीजा

दावे में सच्चाई, दोनों अलग मामले

Rating

False
फैक्ट चेक करने के लिए हमें factcheck@one.in पर मेल करें

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Fact check Image Of Rape Accused In Madhya Pradesh Falsely Linked To Hathras incident
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X