• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Fact Check : क्या सरकार ने फिर बढ़ाई है FASTag की डेड लाइन, जानें सच

|

नई दिल्ली।FASTag Deadline extended. देश में हाईवे(National highway) पर लगने वाली लंबी कतार से छुटकारा पाने के लिए सरकार ने FASTag को अनिवार्य कर दिया था। लेकिन अब यह तारीख बढ़ाकर 15 फरवरी कर दी गई है। अगर गाड़ी में फिलहाल फास्टैग नहीं है तो आपको इसे लगवाने के लिए डेढ़ महीने का समय मिल गया है। इस तारीख के बाद जिन गाड़ियों में फास्टैग नहीं लगा होगा, उनसे दोगुना टोल टैक्स(Toll Tax) वसूला जाएगा। जिसके बाद से इसके बारे में लोगों की जानने की जिज्ञासा बढ़ गई है कि सच में सरकार ने समय सीमा बढ़ा दी गई। इसे लेकर पीआईबी की फैक्ट चेक टीम ने ट्वीट कर सच्चाई बताई है।

फास्टैग की लास्ट डेट बढ़ाकर आगामी 15 फरवरी है

फास्टैग की लास्ट डेट बढ़ाकर आगामी 15 फरवरी है

पीआईबी की फैक्ट चेक विंग ने एक खबर के स्क्रीन शॉट को शेयर किया है। इस कहा गया है कि, सरकार ने गाड़ी ऑनर्स को बड़ी राहत देते हुए अब फास्टैग अनिवार्यता की लास्ट डेट बढ़ाकर आगामी 15 फरवरी कर दी है। पीआईबी फैक्ट चेक ने अपने ट्विटर हैंडल पर इस खबर की पूरी सच्चाई शेयर की है। पीआईबी ने लिखा- दावा किया जा रहा है कि फास्टैग के माध्यम से राष्ट्रीय राजमार्गों पर टोल शुल्क के संग्रह की समय सीमा बढ़ाई गई है।

वायरल न्यूज सच है

वायरल न्यूज सच है

पीआईबी फैक्ट चेक ने कहा कि, ये खबर सही है। MORTHIndia राष्ट्रीय राजमार्गों पर FASTag के माध्यम से टोल शुल्क के संग्रह की समय सीमा 15 फरवरी 2021 तक बढ़ा दी है। पीआईबी फैक्ट चेक में यह खबर सत्य है। इससे पहले फास्टैग की डेडलाइन 1 जनवरी 2021 तय किया गया था। हालांकि सरकार ने 1 जनवरी 2021 से ही सभी वाहनों के लिए फास्‍टैग को अनिवार्य करने का आदेश जारी किया था। लेकिन अभी भी कई वाहन चालक कैश में टोल टैक्स दे रहे हैं। फिलहाल फास्टैग के जरिए कलेक्शन 60-65 फीसदी के आसपास है।

कैसे खरीदें फास्टैग

कैसे खरीदें फास्टैग

सड़क परिवहन मंत्रालय ने नैशनल हाइवेज पर टोल की वसूली फास्टैग के जरिए अनिवार्य बनाने की डेडलाइन 15 फरवरी तक बढ़ा दी है। यहां से खरीद सकते हैं फास्टैग: भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के मुताबिक, फास्टैग ई-कॉमर्स वेबसाइट अमेजन, फ्लिपकार्ट, स्नैपडील और पेटीएम से खरीदे जा सकते हैं। इसके अलावा किसी भी बैंक, पेट्रोल पंप या फिर टोल प्लाजा से भी फास्टैग खरीद सकते हैं। बैंक से फास्टैग लेते समय इस बात का ध्यान रखें कि जिस बैंक में आपका खाता हो उसी से फास्टैग खरीदें।

पोर्ट भी करवा सकते हैं फास्टैग

पोर्ट भी करवा सकते हैं फास्टैग

लोगों की सुविधा के लिए टोल प्लाजा पर विभिन्न बैंकों के एजेंट व एनएचएआई की तरफ से काउंटर लगाए गए हैं। लोग अपने वाहन की आरसी व ड्राइविंग लाइसेंस (RC & DL) अथवा आधार कार्ड (Aadhar Card) दिखाकर हाथों हाथ फास्टैग खरीद सकते हैं। फिलहाल फास्टैग के जरिए कलेक्शन 60-65 फीसदी के आसपास है। एनएचएआई द्वारा फास्टैग को मोबाइल नंबर की तरह ही पोर्ट किया जा सकता है। ग्राहक 3 महीने तक असंतुष्‍ट रहने के बाद ही पोर्ट सर्विस अपना सकते हैं। इस सुविधा के बाद फास्टैग उस बैंक या एजेंसी को रिटर्न करके और दूसरे बैंक से उसे ले सकते हैं। इसमें कार नंबर पहले वाला ही रहेगा।

Share Market: नए साल में पहली बार शेयर बाजार में गिरावट, सेंसेक्स-निफ्टी गिरे

Fact Check

दावा

फास्टैग के माध्यम से राष्ट्रीय राजमार्गों पर टोल शुल्क के संग्रह की समय सीमा बढ़ाई गई है।

नतीजा

ये खबर सही है। MORTHIndia राष्ट्रीय राजमार्गों पर FASTag के माध्यम से टोल शुल्क के संग्रह की समय सीमा 15 फरवरी 2021 तक बढ़ा दी है।

Rating

True
फैक्ट चेक करने के लिए हमें factcheck@one.in पर मेल करें

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Fact Check Deadline for collection of toll charges on National Highways through FASTag extended
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X