• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

Sharad Purnima 2022: शरद पूर्णिमा आज, जानिए महत्व और पूजा विधि

आज आश्विन मास की पूर्णिमा यानी कि शरद पूर्णिमा है।
By Gajendra Sharma
Google Oneindia News

Sharad Purnima 2022: आज आश्विन मास की पूर्णिमा यानी कि शरद पूर्णिमा है। इसे कोजागरी पूर्णिमा भी कहा जाता है। इस दिन चंद्रमा सोलह कलाओं से युक्त पूर्ण होता है और अमृत वर्षा करता है। इसलिए इस दिन मानसिक रोगियों को रोगमुक्ति और मस्तिष्क की मजबूती के लिए आयुर्वेदिक औषधियां पिलाई जाती है। यह दिन संतान और सुख-सौभाग्य की प्राप्ति के लिए भी विशेष दिन होता है।

Recommended Video

    Sharad Purnima 2022: चांदनी और खुले आसमान में खीर रखने का क्या है महत्व ? | वनइंडिया हिंदी *Religion
    Sharad Purnima 2022

    शरद पूर्णिमा की रात्रि के दिन श्रीकृष्ण ने गोपियों संग रास रचाया था इसलिए इस रात्रि में कई जगह गरबा रास का आयोजन भी किया जाता है। मां लक्ष्मी की पूजा का भी यह विशेष दिन होता है। शरद पूर्णिमा के दिन भगवान श्रीकृष्ण का पूजन कर रात्रि में चंद्रमा की चांदनी में खीर रखकर अ‌र्द्धरात्रि में खीर का नैवेद्य लगाकर आरती कर खीर प्रसाद ग्रहण करने से मानसिक सुख, बल, ओज प्राप्त होता है। शरद पूर्णिमा के दिन से ही कार्तिक स्नान भी प्रारंभ होता हे।

    कैसे करें शरद पूर्णिमा पूजन

    शरद पूर्णिमा के दिन प्रात: स्नानादि से निवृत्त होकर घर के पूजा स्थान को शुद्ध-स्वच्छ करके सफेद आसन बिछाएं। इस पर व्रती पूर्व की ओर मुख करके बैठ जाएं। चारों ओर गंगाजल छिड़कते हुए शुद्धिकरण का मंत्र बोलें। सामने एक चौकी पर साबुत चावल की ढेरी लगाकर उस पर तांबे या मिट्टी के कलश में शकर या चावल भरकर स्थापना करें। उसे सफेद वस्त्र से ढंक दें। उसी चौकी पर मां लक्ष्मी की मूर्ति या तस्वीर स्थापित करके उनकी पूजा करें। लक्ष्मी मां को सुंदर वस्त्राभूषण से सुशोभित करें।

    भगवान श्रीकृष्ण का पूजन भी संपन्न करें

    गंध, अक्षत, पुष्प, धूप, दीप, नैवेद्य, तांबूल, सुपारी, दक्षिणा आदि से पूजा करें। शरद पूर्णिमा व्रत की कथा सुनें। साथ में भगवान श्रीकृष्ण का पूजन भी संपन्न करें। चंद्रोदय के समय घी के 11 दीपक लगाएं। प्रसाद के लिए मेवे डालकर खीर बनाएं। इसे ऐसी जगह रखें जहां इस पर चंद्रमा की चांदनी आती हो। तीन घंटे बाद मां लक्ष्मी को इस खीर का नैवेद्य लगाए। घर के बुजुर्ग या बच्चों को सबसे पहले इस खीर का प्रसाद दें फिर स्वयं ग्रहण करें। दूसरे दिन प्रात: स्नानादि के बाद कलश किसी ब्राह्मण को दक्षिणा सहित दान दें और उनसे सुख-समृद्धि, उत्तम संतान सुख का आशीर्वाद प्राप्त करें।

    Full Moon : अक्टूबर की इस तारीख को चांद होगा लाल? क्यों कह रहे हैं इसे 'हंटर मून'?Full Moon : अक्टूबर की इस तारीख को चांद होगा लाल? क्यों कह रहे हैं इसे 'हंटर मून'?

    Comments
    English summary
    Today is Sharad Purnima. its very Important day for Hindu Religion because Today the day of Maa Lakshmi. It is believed that on this day Lord Krishna created Raas leela with the Gopis in Brajbhumi, so Garba Raas is also organized in many places on this night.
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X