• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अपने लग्न के अनुसार दूर करें दांपत्य जीवन की परेशानी

By पं गजेंद्र शर्मा
|

नई दिल्ली। आजकल के दौर में हमारे आसपास ऐसे कई दंपती नजर आ जाएंगे जिनके बीच सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है। कई दंपतियों में तो विवाह के कुछ समय बाद ही विवाद, मनमुटाव जैसी दिक्कतें आने लगती है। लड़की की अपने ससुराल वालों से पटरी न बैठना या लड़के का लड़की से सामंजस्य ना बैठना इसकी बड़ी वजहें हो सकती है। इन परेशानियों के कारण वैवाहिक जीवन से सुख और समृद्धि गायब हो जाती है। ऐसी परिस्थिति में पति-पत्नी को आपसी समझदारी से काम लेना चाहिए। यदि पति-पत्नी के बीच की परेशानियां कुंडली में स्थित ग्रह दोषों के कारण उत्पन्न हो रही हो तो उनका उपचार ज्योतिषीय उपायों से ही किया जा सकता है। पति-पत्नी अपनी-अपनी कुंडली के लग्न के अनुसार उपाय करेंगे तो वैवाहिक जीवन की कई समस्याएं समाप्त हो जाएंगी।

जन्मकुंडली के प्रथम भाव को लग्न स्थान कहा जाता है। पहले स्थान में जो राशि होती है वही राशि उसका लग्न कहलाती है। जैसे कुंडली के पहले स्थान में अंक 5 लिखा है तो यह सिंह लग्न की कुंडली हुई। इसलिए पति और पत्नी अपने-अपने लग्न के अनुसार ज्योतिषीय उपाय करेंगे तो उनके जीवन से समस्याएं दूर होकर सुख-शांति व्याप्त होगी।

{photo-feature}

प्रदोष व्रत 2019: कब-कब आएगा प्रदोष व्रत, क्यों किया जाता है शिव पूजन

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
remove the family relationship problem according to your stars
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X