15 जनवरी से शुरू हो जाएगा बैंड, बाजा, बारात का सिलसिला

By: पं. अनुज के शु्क्ल
Subscribe to Oneindia Hindi

लखनऊ। 15 जनवरी को मध्य रात्रि में 1 बजकर 15 मिनट पर सूर्य गुरू की राशि धनु से निकलकर मकर राशि में गोचर करना प्रारम्भ कर देगा। सूर्य के धनु राशि में भ्रमण करने से खरमास रहता है। मकर संक्रांति 2017 का शुभ मुहूर्त और महत्व

Makar Sankranti 2017 Astrological Significance & Effects

खरमास में मांगलिक कार्य जैसे-विवाह, मुण्डन आदि करना वर्जित होता है। जैसे ही सूर्य मकर राशि में प्रवेश करता है, वैसे ही खरमास समाप्त हो जाता है और सारे शुभ कार्यो की शुरूआत हो जाती है। यानि 15 जनवरी से फिर शुरू हो जायेगा बैंड, बाजा, बारात का सिलसिला।

मेष, वृष, कन्या, वृश्चिक व मीन राशियों के लिए शुभ समय

सूर्य के मकर राशि में आने से मेष, वृष, कन्या, वृश्चिक व मीन राशियों के लिए शुभ होगा। वहीं कर्क, तुला, धनु, मकर व कुम्भ राशियों को कुछ दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है।

  • मेष- सन्तान की ओर से कोई शुभ समाचार की प्राप्ति होगी। नौकरी वाले लोगों को बोनस मिलने के आसार नजर आ रहें है। भूमि, मकान आदि में निवेश सम्भव है। कुछ लोगों के दाम्प्त्य सुख में तनाव की स्थिति उत्पन्न कर सकता है।
  • वृष- सूर्य चतुर्थेश होकर भाग्य भाव में स्थित है, जिस कारण वाहन का सुख मिलेगा और परिवार में सुखद माहौल बना रहेगा। नौकरी वाले लोगों को अपने बॉस से खतरा बना रहेगा। वाहन चलते वक्त सावधानी बरतें।
  • मिथुन- कुछ लोगों को काम के दबाव के कारण नीदं में कमी आयेगी। गुप्त सम्बन्ध उजागर हो सकते है, अतः सावधानी बरतें। नयें स्रोतों से धन में वृद्धि होगी। प्रेम सम्बन्ध में सुखद स्थिति बनी रहेगी।
  • कर्क- नयें सम्बन्धों में इजाफा होगा। कलात्मक कार्यो में रूचि बढ़ेगी। रोजगार के लिए भटक रहें लोगों को सफलता मिलेगी। रोग के प्रति सतर्क एंव सावधान रहने की आवश्यकता है। जीवन साथी के तालमेल अच्छा नहीं रहेगा। धन कहीं फॅस सकता है, इसलिए सावधानी बरतें।
  • सिंह- लग्नेश सूर्य छठें भाव में स्थित है। अतः ठण्ड से विशेष बचाव करें अन्यथा रोग की चपेट में आ सकते है। पराक्रम व साहस में वृद्धि होगी। दूरदर्शी सांेच के कारण आप लाभान्वित होगें। आर्थिक मुद्दों को लेकर मन थोड़ा चिन्तित हो सकता है।
  • कन्या- बच्चों की शिक्षा को लेकर मन चिन्तित रह सकता है। नयीं योजनाओं को पूरी उर्जा के साथ प्रारम्भ करने में सफलता अवश्य मिलेगी। रूके हुये धन की प्राप्ति होगी जिससे मन को थोड़ा सा सुकून मिलेगा। धार्मिक कार्यो के प्रति रूचि बढ़ेगी।
  • तुला- कुछ लोगों को इस समय मानसिक तनाव तथा सिर में पीड़ा रह सकती है। प्राइवेट जॉब वाले लोगों को विपरीत परिस्थितियों से गुजरना पड़ेगा। निज सम्बन्धों में सकारात्मक रवैया अपनायें। रोजगार सम्बन्धी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। बेवज की चिन्ताओं से मुक्त होने की कोशिश करें। परिवार की स्त्रियॉ बीमार हो सकती है।
  • वृश्चिक- नौकरी वाले जातकों को नयें अवसर प्राप्त होंगे जिसके फलस्वरूप आय में वृद्धि होगी। कुछ लोगों को भौतिक संसाधनों का सुख मिलेगा। पारिवारिक रिश्तों में अनुकूलता बनी रहेगी। स्वास्थ्य में कुछ शिथिलिता रह सकती है।
  • धनु- मनोकूल आवश्यकतों की पूर्ति के लिए आलस्य को त्यागना होगा। सूर्य भाग्येश होकर दूसरे भाव में सिथत है, जिस कारण अतीत में किये गये निवेश से लाभ होगा एंव परिवार में नन्हे मेंहमान का आगमन हो सकता है।
  • मकर- प्रथम भाव का सूर्य स्वभाव में अहंकार पैदा कर सकता है। अतः इससे सचेत रहें। खर्चो में अधिकता रहेगी तथा पद, प्रतिष्ठा का लाभ मिल सकता है। प्रेमी युगल को छुप-छुपकर मिलने में सावधानी बरतनी होगी।
  • कुम्भ- 12 वें भाव का सूर्य कठिन परिस्थितियों में भी विजय दिलायेगा किन्तु वाहन चलाते वक्त सावधानी बरतें। धन आयेगा किन्तु तेजी से खर्च भी होगा। प्रेम सम्बन्धों में और मजबूती आयेगी। किसी कारणवश सन्तान की ओर से मन चिन्तित रहेगा।
  • मीन- सूर्य षष्ठेश होकर लाभ भाव में बैठा है, जिस कारण नौकरी में प्रगति होगी। मनोरंजन के नयें साधन उपलब्ध होगें। भाग्य पक्ष मजबूत होगा जिससे आर्थिक स्थिति में काफी मजबूती आयेगी। धर्म की ओर मन अ्रग्रसर होगा। 
देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Makara Sankranti 2017 is one of the most celebrated festivals in India but astrologically, it is the day when Sun begins its movement away from the tropic of Capricorn and towards the northern hemisphere.
Please Wait while comments are loading...