• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Effects of Taaffeite: अगर चाहते हैं जीवन से सुस्ती को मिटाना तो पहनिए 'टाफाइट'

By Pt. Gajendra Sharma
|

नई दिल्ली। हममें से अनेक लोगों को अक्सर लगता रहता है कि उनके शरीर में ऊर्जा का स्तर कम हो रहा है, वे खुद को थका हुआ सा महसूस करते हैं, उन्हें बार-बार नींद आने जैसा लगता रहता है, थोड़े-थोड़े काम में ही थकान होने लगती है। यदि ऐसा है तो इसका सीधा अर्थ है कि आपके शरीर में ऊर्जा का स्रोत कम हो रहा है। शरीर में ऊर्जा का स्रोत शरीर के सातों चक्रों में हैं। इन चक्रों को प्राण वायु के जरिए सक्रिय किया जा सकता है, लेकिन जब यह प्राण वायु किसी प्रकार बाधित होती है तो शरीर के चक्रों को पर्याप्त ऊर्जा नहीं मिल पाती और इसके फलस्वरूप शरीर जल्दी थक जाता है। इन चक्रों को ऊर्जा देने का काम करते हैं विभिन्न् प्रकार के रत्न, स्टोन, जैम स्टोन।

शरीर के एनर्जी लेवल को बढ़ाता है 'टाफाइट'

शरीर के एनर्जी लेवल को बढ़ाता है 'टाफाइट'

वैदिक ज्योतिष में नौ ग्रहों के नौ मुख्य रत्न बताए गए हैं और उनके अनेक उपरत्न बताए गए हैं। इन उपरत्नों में अनेक ऐसे दुर्लभ रत्न होते हैं जो संपूर्ण पृथ्वी पर बहुत कम मात्रा में होते हैं। वैदिक ज्योतिष के अलावा पाश्चात्य ज्योतिष में भी कई दुर्लभ रत्नों का जिक्र किया गया है। इन्हीं में से एक रत्न है टाफाइट। इस स्टोन के बारे में पाश्चात्य विद्वानों का मत है कि इसे पहनने से शरीर में ऊर्जा का स्तर एकदम से बढ़ाया जा सकता है। किस व्यक्ति को कितनी ऊर्जा की आवश्यकता है वह उसका शारीरिक परीक्षण करके विशेषज्ञ ज्ञात करते हैं और उसके अनुसार उतने ही वजन का टाफाइट पहनाया जाता है।

यह पढ़ें: Vastu tips for money: धन-संपत्ति बढ़ाने में मदद करेंगे वास्तु के ये सिद्धांत

वैज्ञानिक काउंट टाफे

वैज्ञानिक काउंट टाफे

टाफाइट की खोज डबलिन आयरलैंड में वैज्ञानिक काउंट टाफे ने 1946 में की थी। उन्हीं के नाम पर इसका नाम टाफाइट रखा गया है। यह नीले, जामुनी, लाल रंग के मिलेजुले रंग का मिनरल है। टाफाइट पर बाद में वैज्ञानिकों ने अनेक शोध किए और पता लगाया कि मानव शरीर पर इसका क्या प्रभाव होता है। जब उन्होंने अनेक आयु वर्ग के स्त्री-पुरुषों को इसका परिशोधित रूप धारण कराया तो चौंकाने वाले परिणाम आए। इसे पहनने वाले व्यक्ति ने खुद को पहले से अधिक ऊर्जावान महसूस किया।

टाफाइट के प्रभाव

टाफाइट के प्रभाव

  • इसे अंगूठी, पेंडेंट, ब्रेसलेट आदि के रूप में धारण करने से शरीर के सातों चक्र सक्रिय होते हैं और इससे शरीर को पर्याप्त ऊर्जा प्राप्त होती है।
  • टाफाइट में ऊर्जा को किसी न किसी रूप में संचित करने का गुण भी होता है। इसे पहनने से शरीर दिनभर ऊर्जावान बना रहता है।
  • इसे पहनने से शरीर में थकान, आलस्य, उनींदापन नहीं होता है।
  • इसे पहनने से पूरे शरीर की कोशिकाओं को नया जीवन मिलता है। जिससे शरीर की झुर्रियों से रक्षा होती है। बुढ़ापा दूर रहता है।
  • चेहरे की चमक और सौंदर्य में वृद्धि करता है टाफाइट।
  • यह स्त्रियों में जननांगों को मजबूती प्रदान करता है। बच्चे के जन्म के तुरंत बाद यदि इसे माताएं धारण करें तो उनके शरीर में सकारात्मक प्रभाव दिखाई देते हैं।

यह पढ़ें: Samudrika Shastra: कान केवल सुनते नहीं बल्कि कुछ कहते भी हैं...

जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Taaffeite is a mineral, named after its discoverer Richard Taaffe (1898–1967) who found the first sample, a cut and polished gem, in October 1945 in a jeweler's shop in Dublin, Ireland.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more