• search
वाराणसी न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

Varanasi में डेंगू के मरीजों की संख्या 400 के पार, आप न करें ऐसी गलती, नहीं तो हो जाएंगे बीमार

Varanasi जिले में डेंगू मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है, वाराणसी में डेंगू मरीजों की संख्या 400 के पार पहुंच गई है। इसके अलावा 100 से अधिक मरीजों के सैंपल जांच के लिए लिए गए हैं।
Google Oneindia News

Varanasi समेत पूरे प्रदेश में तेजी से डेंगू के मरीज बढ़ रहे हैं। आलम यह है कि ठंड का मौसम आने के बाद भी डेंगू के मरीजों की संख्या में कमी नहीं मिल रही है। वाराणसी जिले में सोमवार को डेंगू मरीजों की संख्या 400 के पार पहुंच गई। इसके अलावा कई अस्पतालों में अभी भी मरीज भर्ती हैं जिनका सैंपल जांच के लिए भेजा गया है। ऐसे में संभावना जताई जा रही है कि वाराणसी में मंगवार शाम तक डेंगू मरीजों की संख्या 500 के पार या उसके आसपास पहुंच जाएगी। हालांकि इस बीच एक राहत भरी खबर यह भी है कि डेंगू ग्रसित होने के बावजूद भी काफी संख्या में लोग उपचार कराने के बाद स्वस्थ हो चुके हैं।

प्लेटलेट के लिए लगानी पड़ रही कतार

प्लेटलेट के लिए लगानी पड़ रही कतार

डेंगू मरीजों की संख्या बढ़ने के चलते जिले में प्लेटलेट की भी मांग बढ़ गई है। आलम यह है कि आईएमए ब्लड बैंक, पंडित दीनदयाल अस्पताल और कबीरचौरा स्थित मंडलीय अस्पताल में ब्लड के लिए लोगों को लंबी कतार लगानी पड़ रही है। इसके अलावा वाराणसी जिले में डेंगू ग्रसित लोग बकरी के दूध का सेवन कर रहे हैं। बकरी के दूध की डिमांड बढ़ जाने के चलते रेट भी काफी हाई हो गया है। शहरी इलाके में 100 से 300 रुपए लीटर तक बकरी का दूध बेचा जा रहा है। हालांकि शहर की अपेक्षा ग्रामीण क्षेत्रों में बकरी का दूध आसानी से उपलब्ध हो जा रहा है। लोगों का कहना है कि बकरी का दूध सेवन करने से प्लेटलेट की संख्या तत्काल कंट्रोल में हो जाती है और बढ़ने लगती है।

ऐसी गलती न करें वर्ना होगी कार्रवाई

ऐसी गलती न करें वर्ना होगी कार्रवाई

डेंगू मरीजों की लगातार बढ़ती संख्या को देखते हुए मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा लोगों को अलर्ट किया जा रहा है। पूर्व में भी इसके लिए सूचना जारी करके बताया गया था कि कोई भी व्यक्ति अपने घर के आस-पास गंदा पानी जमा नहीं होने देगा। जहां भी काफी समय से गंदा पानी जमा है उन लोगों के खिलाफ कार्रवाई भी की जाएगी। जमा हुए गंदा पानी के सर्विलांस के लिए अलग-अलग 110 टीमें बनाई गई हैं। शहर से लेकर गांव तक इन्हीं टीमों द्वारा जांच पड़ताल किया जा रहा है। अब तक दर्जनों लोगों को घर के सामने गंदा पानी जमा होने के चलते नोटिस जारी की जा चुकी है। इस मामले को लेकर जिस भी व्यक्ति द्वारा लापरवाही बरती जाएगी उसके खिलाफ मुकदमा भी दर्ज कराया जाएगा।

एक गलती कर देगी बीमार

एक गलती कर देगी बीमार

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ संदीप चौधरी द्वारा शहर के लोगों से अनुरोध किया गया है कि यदि आपके आसपास नहीं गंदा पानी जमा है तो उसे तत्काल हटा दीजिए। यदि लापरवाही बरती जाती है तो उस घर के मकान मालिक या घर का कोई भी सदस्य डेंगू रोग के चपेट में आ जाएगा। अधिकारियों द्वारा बताया गया कि वाराणसी जिले के आशापुर, शिवपुर और पहड़ियां इलाकों में डेंगू के अधिक मरीज सामने आ रहे हैं। प्रभावित इलाकों में फागन करवाई जा रही है इसके अलावा लोगों को जागरूक भी किया जा रहा है।

वायरल बुखार ने बढ़ाई मुसीबत

वायरल बुखार ने बढ़ाई मुसीबत

वर्तमान समय में एक तरफ जहां डेंगू का प्रकोप तेजी से फैल रहा है वहीं वायरल बुखार के चलते भी काफी संख्या में लोग बीमार पड़ रहे हैं। आलम यह है कि गंभीर रूप से बीमार लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया जा रहा है ताकि वे स्वस्थ हो सकें। जांच करे चिकित्सकों द्वारा बताया गया कि वर्तमान समय में सर्दी, जुकाम, खांसी और जोड़ों का दर्द सहित अन्य बीमारियों से भी काफी संख्या में लोग ग्रसित हो रहे हैं। आलम यह है कि प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र से लगाया मुख्य अस्पतालों में भी वायरल बुखार और अन्य बीमारियों से जूझ रहे लोगों को लंबी लाइन लगानी पड़ रही है।

Varanasi Airport पर हरिद्वार निवासी यात्री के बैग से चेकिंग के दौरान मिला कारतूस, भेजा जेलVaranasi Airport पर हरिद्वार निवासी यात्री के बैग से चेकिंग के दौरान मिला कारतूस, भेजा जेल

Comments
English summary
Number of dengue patients in Varanasi crossed 400
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X