UP Civic Polls 2017: मां के नाम पर पत्नी का मुंह ढक कर ले गया वोट डलवाने

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

भदोही। मान, सम्मान व प्रतिष्ठा से जुड़े निकाय चुनाव में प्रत्याशियों संग समर्थकों ने भी पूरी ताकत लगा दी। रविवार को भदोही नगर के मर्यादपट्टी, गोपीगंज नगर पालिका परिषद में बने मतदान केंद्र व नईबाजार समेत सभी स्थानों पर फर्जी मतदान की शिकायतें मिली। इस दौरान कुछ लोग एजेंटों की मिली भगत से सफल रहे तो कुछ को पुलिस के जवानों ने रोक दिया। भदोही व गोपीगंज में दो लोगों को फर्जी मतदान करने जाते समय पकड़ा गया जबकि नई बाजार में एक महिला को केंद्र से बाहर किया गया।

UP Civic Polls 2017: Covered Wifes face to cast his Mother Vote in Bhadohi

पत्नी को मां बताकर ले गया था वोट दिलाने

भदोही शहर के मर्यादपट्टी स्थित प्राथमिक विद्यालय बूथ पर एक युवती फर्जी मतदान करने पहुंची। संदेह होने पर जवानों ने ना सिर्फ रोका बल्कि बैठा लिया और एक घंटे बाद उसे छोड़ा गया। इसी तरह नगर पंचायत नई बाजार के आदर्श मतदान केंद्र पूर्व माध्यमिक विद्यालय पर एक व्यक्ति अपनी पत्नी को मां बताकर वोट दिलाना चाह रहा था। संदेह होने पर पुलिस के जवानों ने मुंह से कपड़ा खुलवाया और उसे डांटते हुए बाहर कर दिया। इसी तरह गोपीगंज में भी एक व्यक्ति फर्जी मतदान करते पकड़ा गया, जिसे बाद में छोड़ दिया गया।

बुढ़ापा और बीमारी से भी नहीं डिगे मतदाताओं के कदम

निकाय चुनाव में बुढ़ापा और बीमारी भी मतदाताओं के कदम नहीं रोक पाई। कोई बैसाखी, डंडे तो कोई अपनों के कंधों का सहारा लेकर मतदान केंद्र तक पहुंचा। इस दौरान शहर की सरकार चुनने में वृद्धों का खासा जज्बा दिखा। गोपीगंज नगर के जिला पंचायत बालिका इंटर कॉलेज में बने मतदान केंद्र पर पहुंची जोगिनका निवासी 98 वर्षीय गुदना देवी ने बताया कि वे लोकसभा, विधानसभा समेत हर चुनाव में मतदान करती आईं हैं। हालांकि बुढ़ापा और बीमारी के चलते शरीर उतना स्त्रिरय नहीं रह गया है लेकिन वोट डालने का जज्बा बरकरार है।

UP Civic Polls 2017: Covered Wifes face to cast his Mother Vote in Bhadohi

सपा प्रत्याशी ने आयोग से की शिकायत

गोपीगंज नगर पालिका परिषद से सपा चेयरमैन पद के प्रत्याशी अनिल जायसवाल ने रविवार को निर्वाचन आयोग से शिकायत की है। उनका आरोप है कि रविवार को मतदान के दौरान भाजपाइयों ने ये अफवाह फैला दी कि उनके द्वारा भाजपा प्रत्याशी का समर्थन किया जा रहा है। इसके चलते मतदाता भ्रमित हो गए। उन्होंने आयोग से मामले की जांच कर आरोपितों पर कार्रवाई की मांग की।

डीएम ने भाजपा नेता को कराया गिरफ्तार, पुलिस ने छोड़ा

मतदान केंद्र के पास बैनर व झंडा लेकर घूमने वाले भाजपा नेता को पुलिस ने हिरासत में लिया। कार्रवाई डीएम विशाख के नर्देश पर की गई। चुनाव के दौरान काली देवी मंदिर के पास भाजपा का झंडा बैनर लेकर भाजपा नेता अभिनव पांडेय पर घूमने का आरोप था। किसी ने डीएम से शिकायत दी और मौके पर पहुंचे डीएम व एसपी ने भाजपा नेता को बैनर व पोस्टर संग देखा। जिसके बाद उनके निर्देश पर पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया। इस बीच, जानकारी होने के बाद दर्जनों की तादात में भाजपाई थाने धमक पड़े। दबाव में आई पुलिस ने दो घंटे बाद आरोपी को छोड़ दिया।

Read more: PM मोदी ने जिसके लिए मांगे वोट, उसी का नाम मतदाता सूची से गायब

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
UP Civic Polls 2017: Covered Wifes face to cast his Mother Vote in Bhadohi
Please Wait while comments are loading...

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.