आतंकवाद के खिलाफ एक साथ गूंजी हजारों मुस्लिम आवाज

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

सुल्तानपुर। हुसैनी शिया वेलफेयर सोसायटी के तत्वाधान में एक साथ 10 हजार लोगों ने आतंकवाद मुर्दाबाद, हिंदुस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए। सोसायटी ने आरोप लगाया है कि पाकिस्तान, सऊदी अरब, अमेरिका और इजराइल आतंकवाद को बढ़ावा दे रहे हैं, इन्हें राष्ट्रीय स्तर पर कड़ा संदेश देते हुए कार्रवाई की जाए।

आतंकवाद के खिलाफ एक साथ गूंजी हजारों मुस्लिम आवाजें
आतंकवाद के खिलाफ एक साथ गूंजी हजारों मुस्लिम आवाजें

कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ हो बड़ी कार्रवाई...

प्रेसिडेंट और पीएम को संबोधित मेमोरेंडम में हुसैनी शिया वेलफेयर सोसायटी के अध्यक्ष हैदर अब्बास ने मांग की है कि देश की सरहद कश्मीर पर आतंकवादियों द्वारा सेना और बेगुनाहों का जो कत्लेआम हो रहा है उस पर तत्काल आतंकियों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की जाए। यही नहीं पूरे देश में आतंकियों द्वारा बरती जा रही घटनाओं की रोकथाम के लिए विशेष अभियान चलाए जाएं।

आतंकवाद के खिलाफ एक साथ गूंजी हजारों मुस्लिम आवाजें
आतंकवाद के खिलाफ एक साथ गूंजी हजारों मुस्लिम आवाजें

'पाकिस्तान, सऊदी अरब, अमेरिका और इजराइल दे रहे आतंकवाद को बढ़ावा'

वहीं सोसायटी की ओर से बोलते हुए मौलाना कल्बे अब्बास खां ने कहा कि आज पूरे देश में आतंकवादियों द्वारा इंसानियत का जो कत्लेआम हो रहा है उसका जिम्मेदार पाकिस्तान, सऊदी अरब, अमरीका और इजराइल है। मौलाना ने कहा कि आतंकियों को पनाह और वित्तीय सहायता देने वाले देशों को चिंहित कर यूएनओ उसके खिलाफ कार्रवाई करे।

आतंकवाद के खिलाफ एक साथ गूंजी हजारों मुस्लिम आवाजें

पैगंबर साहब की बेटी की मजार बनवाने की मांग

जिला प्रशासन को सौंपे मेमोरेंजम में सोसायटी की ओर से पांच दशक पहले पैगंबर मोहम्मद साहब की बेटी हजरत फात्मा जहरा के गिराए गए मजार को फिर से बनवाए जाने की मांग की है। बता दें कि इस बात से गुस्साए शिया समुदाय के लोगों ने सऊदी की आले सऊद हुकूमत, पाकिस्तान और आतंकवाद के खिलाफ घंटों नारे लगाए।

Read more: दिल्ली HC सुनाएगा वीरभद्र सिंह मनी लांड्रिंग मामले में फैसला

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Thousands of Muslim simultaneously against terrorism
Please Wait while comments are loading...