तीन बार भाजपा विधायक रही सीमा द्विवेदी समेत 7 शिक्षक बर्खास्त

Subscribe to Oneindia Hindi

इलाहाबाद। इलाहाबाद हाईकोर्ट के आदेश पर बड़ी कार्रवाई हुई है। भाजपा की तीन बार विधायक रही सीमा द्विवेदी समेत 7 शिक्षक बर्खास्त कर दिया गया है। मामला जौनपुर के महराजगंज विकास खंड में स्थित श्री राजनारायण पूर्व माध्यमिक विद्यालय शंकरगंज का है। यहां तैनात पूर्व विधायक सीमा द्विवेदी समेत 7 शिक्षकों को अपर मुख्य सचिव बेसिक शिक्षा राज प्रताप सिंह ने बर्खास्त कर दिया है।

Read Also; यूपी में शादी करने वालों को अब 20 हजार के साथ मिलेगा स्मार्टफोन

इस बार यूपी चुनाव हार गई थी सीमा द्विवेदी

इस बार यूपी चुनाव हार गई थी सीमा द्विवेदी

गौरतलब है कि यूपी के जौनपुर जिले में गड़वारा व मुंगराबादशाहपुर विधानसभा क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी से सीमा द्विवेदी तीन बार विधायक रह चुकी हैं। सीमा द्विवेदी पहली बार 1996 व दूसरी बार 2007 में जिले के गड़वारा सीट से और तीसरी बार 2012 में जिले की नवगठित विधानसभा मुंगराबादशाहपुर से विधायक चुनी गयीं थीं। हलांकि इस बार मोदी लहर होने के बावजूद वह चुनाव हार गयी और अब उनकी टीचर की नौकरी भी हाथ से निकल गई है। दिलचस्प बात यह है कि सीमा द्विवेदी भाजपा की विधायक बनने से तीन माह पूर्व शिक्षक नियुक्त हो गई थी। फिलहाल बर्खास्त हुये टीचर अब सुप्रीम कोर्ट की शरण में जाने की तैयारी कर रहे हैं।

क्यों हुई शिक्षकों के खिलाफ कार्रवाई

क्यों हुई शिक्षकों के खिलाफ कार्रवाई

जौनपुर के महराजगंज विकास खंड के शंकरगंज में श्रीराजनारायण पूर्व माध्यमिक विद्यालय है। यहां टीचर के कुल 8 पद हैं लेकिन सन 1996 के दरम्यान पूर्व विधायक सीमा द्विवेदी समेत सात शिक्षक यहां और नियुक्त हो गये जिससे टीचरों की संख्या 15 हो गई। रिकॉर्ड के मुताबिक, जौनपुर के तत्कालीन बेसिक शिक्षा अधिकारी शीतला प्रसाद मौर्य ने 2001 में सभी को वेतन देने का आदेश दिया था। इसी बावत जितेंद्र कुमार गोयल ने हाईकोर्ट में पीआईएल दाखिल की जिस पर सुनवाई करते हुए इलाहाबाद हाईकोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाया था और शिक्षकों की नियुक्ति को अवैध करार देते हुए राज्य सरकार को कार्रवाई करने का निर्देश दिया था। हलांकि यह आदेश 23 जून 2017 को ही कोर्ट ने दे दिया था लेकिन मामला विभाग में अटका था।

नियुक्तियों में अनियमितता से इन सबकी हुई छुट्टी

नियुक्तियों में अनियमितता से इन सबकी हुई छुट्टी

नियुक्तियोंं में अनियमितता की वजह से बर्खास्त हुये शिक्षकों में भाजपा से तीन बार विधायक रहीं सीमा द्विवेदी, अखिलेश कुमार सिंह, राममनोरथ यादव, अमरेंद्र बहादुर यादव, रामजी मिश्र, जगदीश प्रसाद मिश्र और अतुल कुमार दुबे शामिल हैं।

Read Also: इलाहाबाद यूनिवर्सिटी: छात्रसंघ अध्यक्ष, उपाध्यक्ष 5 साल के लिए निष्कासित

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Seven teachers including fromer BJP MLA sacked in Uttar Pradesh.
Please Wait while comments are loading...