दूध की बाल्टी लेकर घर से निकले बच्चे, पहुंच गए अमिताभ बच्चन के घर

Subscribe to Oneindia Hindi
    Amitabh Bachchan से मिलने की चाह लिए घर से भागे Young Fans | वनइंडिया हिंदी

    मथुरा। नए-नए एक्टरों के जमाने में सदी के महानायक अमिताभ बच्चन का क्रेज आज भी बरकरार है। ऐसा ही क्रेज धार्मिक नगरी वृंदावन में देखने को मिला जहां के रहने वाले दो मासूम बच्चे अमिताभ बच्चन का दीदार करने मुंबई भाग गए थे। बच्चों के लापता होने से घबराए घरवालों ने उन्हें ढूंढना शुरू किया, लेकिन उनका कहीं पता नहीं चला। घरवालों दो नामजद लोगों के खिलाफ बच्चों के अपहरण का मुकदमा दर्ज कराया। हालांकि बाद में दोनों बच्चे मुंबई से सकुशल बरामद कर लिए गए।

    क्या है मामला

    क्या है मामला

    जानकारी के मुताबिक मामला धार्मिक नगरी वृन्दावन क्षेत्र के गौरा नगर कॉलोनी का है जहां के रहने बाले अमन उम्र 10 वर्ष और भोला 14 वर्ष दोनों 6 दिन पूर्व घर से दूध लेने तो निकले लेकिन वापस घर नहीं लौटे। शाम हो जाने के बाद दोनों बच्चे के घर ना लौटने पर परिजनों ने उन्हें ढूँढना शुरू किया। लेकिन दोनों का कहीं भी पता नहीं चला। थक हार कर परिजनों ने कोतवाली वृन्दावन में तहरीर दी। परिजनों ने अपहरण होने के शक की सम्भवना से दो नामजद लोगों के विरुद्ध थाना कोतवाली तहरीर दे दी।

     नहीं मिल पा रहा था बच्चों का कोई सुराग

    नहीं मिल पा रहा था बच्चों का कोई सुराग

    दो मासूम बच्चों का अचानक गायब हो जाना पुलिस के लिए सिरदर्द बना रहा। मामला उस वक्त सुलझा जब एक दिन अचानक मुंबई पुलिस का फोन वृन्दावन पुलिस के पास आया। फिर क्या था जैसे वृंदावन पुलिस को ये पता लगा की लापता बच्चे मुंबई पुलिस के पास है, वृन्दावन पुलिस बिना समय गवाए तत्काल बच्चों को लेने के लिए मुंबई निकल गई। जब पुलिस ने बच्चों से पूछताछ की तो पता चला कि वह सदी के महानायक अमिताभ बच्चन का दीदार करने के लिए मुंबई गए थे। उनका किसी ने अपहरण नहीं किया था और न ही वह किसी के साथ गए थे। फिलाल पुलिस ने बच्चों के परिजनों को जानकारी देकर न्यायालय के समक्ष पेश किया है।

    मुंबई पुलिस की जानकारी के बाद दोनों बच्चों को सकुशल लाया गया

    मुंबई पुलिस की जानकारी के बाद दोनों बच्चों को सकुशल लाया गया

    कोतवाली प्रभारी सुबोध कुमार ने मामले कि जानकारी देते हुए बताया की ये बच्चे 10 तारीख को सुबह 6 बजे दूध लेने के बहाने घर से निकले और घर से मथुरा स्टेशन पहुँचे। वहां से पंजाब मेल से मुंबई के लिए चले गए। मुंबई पहुंचने के बाद जब वहां इनकी मुलाकात अमिताभ से नहीं हुई तो वापस ट्रेन में बैठने के स्टेशन पहुँचे। लेकिन सौभाग्यवश पुलिस से टकरा गए। मुंबई पुलिस ने बच्चों से पूछताछ कर वृंदावन पुलिस को जानकारी दी गई। जानकारी मिलते ही इधर से वृंदावन पुलिस मुंबई के लिए रवाना हो गई और वहां से दोनों बच्चों को सकुशल ले आई।

    ये भी पढे़ं- 'इस मोहल्ले में बीजेपी के नेताओं का आना मना है, क्योंकि यहां महिलाएं-बच्चियां रहती हैं'

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    mathura two children ran away from home reached to amitabh bacchan home in mumbai

    Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
    पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.