शादी से ठीक पहले बच्चों के साथ पहुंची पहली बीवी, दूल्हा पहुंचा हवालात

Subscribe to Oneindia Hindi

सहारनपुर। प्रदेश सरकार द्वारा आयोजित महिला सुरक्षा सप्ताह के चलते बड़गांव थाना क्षेत्र में दूसरी शादी करने पहुंचे एक दूल्हे को उसकी पहली पत्नी की शिकायत के बाद पुलिस ने निकाह करने से पहले ही हिरासत में ले लिया। मामला बिगड़ता देख दूल्हे के साथ आये अन्य बाराती भी मौके से फरार हो गए।

Groom in custody after first wife reached to second marriage venue in Saharanpur

बुधवार की सुबह थाना झिंझाना के गांव अजीजपुर निवासी बाबू खां का पुत्र इंसार उर्फ लिल्लू बड़गांव क्षेत्र के गांव नूनाबड़ी निवासी के यहां बारात लेकर आया था। धूमधाम से सभी बाराती और घराती सुबह का चाय नाश्ता करने के बाद इंसार उर्फ लिल्लू एवं शबाना के निकाह की तैयारी में लगे हुए थे। इसी समय पर इंसार पहली पत्नी नरसीन बड़गांव पुलिस को लेकर गांव नूनाबड़ी मौके आ धमकी। पीड़ित पत्नी नरसीन ने बताया कि यह दूल्हा बना इंसार उर्फ लिल्लू पुत्र बाबू निवासी अजीजपुर थाना झिंझाना उसका पति है और उसके दो बच्चे सानिया और सोयब भी हैं।

आरोप है कि इंसार ने सवा वर्ष पूर्व उसे मारपीट कर घर से निकाल दिया था। अभी तक कानूनी रूप से उसके तलाक जैसी कोई बात भी नहीं हुई है और आज वह गैर कानूनी रूप से बारात में आठ दस आदमी लेकर नूनाबड़ी निवासी कामिल की लड़की शबाना से शादी करने के लिए आया था।

Groom in custody after first wife reached to second marriage venue in Saharanpur

पुलिस ने दूल्हा बने इंसार की पहली पत्नी नसरीन की शिकायत पर निकाह रुकवाते हुए आरोपी दूल्हे व बिचौलिये को मौके से हिरासत में लेकर हवालात में डाल दिया। थानाध्यक्ष भूपेन्द्र सिंह का कहना है कि मामले को लेकर दोनों पक्षों के बीच वार्ता चल रही है। उसके बाद ही अग्रिम कार्रवाई अमल में लाई जायेगी।

Read Also: कुत्ते ने जमीन में गड़ी लाश को खींचकर किया प्यार में हुए खौफनाक मर्डर का खुलासा

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Groom in custody after first wife reached to second marriage venue in Saharanpur.
Please Wait while comments are loading...

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.