• search
उत्तर प्रदेश न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

राकेश टिकैत का दावा- मोदी सरकार के हाथ में कुछ नहीं, व्यापारियों के इशारे पर हो रहा काम

|

बागपत: देश की राजधानी दिल्ली में किसानों के आंदोलन को शनिवार को 93 दिन हो गए। किसान कृषि कानून को वापस लेने और एमएसपी पर कानून बनाने की मांग को लेकर दिल्ली के सिंघु, टिकरी और गाजीपुर बॉर्डर पर जुटे हुए हैं। किसानों के मुद्दे पर विपक्ष भी सरकार को जमकर घेरने का काम कर रही है, लेकिन मोदी सरकार इसे किसानों के लिए ऐतिहासिक कदम बता रही है। इन सब के बीच एक बार फिर किसान नेता राकेश टिकैत ने कृषि कानून को लेकर केंद्र सरकार पर हमला बोला है। किसान नेता देशभर में किसानों को एकजुट करने के लिए किसान महापंचायत कर रहे हैं।

    Kisan Andolan: Rakesh Tikait बोले, कानून बनने से पहले व्यापारियों ने बना लिए गोदाम | वनइंडिया हिंदी

    rakesh

    बागपत में बोलते हुए राकेश टिकैत ने कहा कि मोदी सरकार के हाथ में कुछ नहीं है, व्यापारी उन्हें जो कह रहे हैं सरकार वही कर रही है। सरकार ने कानून लागू करने से पहले गोदाम बनवा दिए, बाद में जाकर तीनों कानून बनाए हैं। वो दिन दूर नहीं जब जनता इन गोदामों को तोड़ देगी। उन्होंने बताया कि चौधरी चरण सिंह मंडी कानून लेकर आये थे, जिसको सर छोटूराम राम ने पंजाब में लागू करवाया। जिसकी वजह से आज पंजाब के किसानों की फसल एमएसपी पर खरीदी जाती है।

    सीकर महापंचायत : राकेश टिकैत बोले-अब किसान लाल किले की बजाय संसद में घुसेंगे, इंडिया गेट पर करेंगे खेतीसीकर महापंचायत : राकेश टिकैत बोले-अब किसान लाल किले की बजाय संसद में घुसेंगे, इंडिया गेट पर करेंगे खेती

    वहीं किसान आंदोलन को लेकर उन्होंने कहा कि जिस दिन ये आंदोलन कमजोर हुआ, समझो उस दिन किसानों की कमर टूट जाएगी। ये आंदोलन 70 साल से घाटे की खेती कर रहे किसानों के हक की लड़ाई है। किसान आज अपनी फसल का दाम नहीं ले पा रहा है। उन्होंने कहा कि अगर आज ये किसानों का आंदोलन नहीं होता तो सरकार ने गन्ने की कीमत बढ़ाने की जगह घटा देती।

    English summary
    Farmers protest rakesh tikait statement on modi government and farm law in baghpat
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X