भाजपा नेता ने दी चौकी फूंकने की धमकी, राज्य मंत्री ने कहा 'वो मेरा भाई नहीं'

Subscribe to Oneindia Hindi

वाराणसी। उत्तर प्रदेश में वाराणसी के रोहनिया क्षेत्र में 7 अप्रैल को अखरी चौकी इंचार्ज के साथ दुर्व्यवहार और गाली गलौज के बाद पुलिस चौकी फूंक देने की धमकी देने वाले धर्मेंद्र राजभर खुद को योगी सरकार के राज्य मंत्री और रोहनिया के विधायक अनिल राजभर के मौसेरे भाई होने का दावा कर रहे थे। अब राज्य मंत्री अनिल राजभर ने कहा कि उनका कोई भाई नहीं है, हां ये जरूर है कि पार्टी के कार्यकर्ता और समर्थक हमारे भाई है। धर्मेंद्र राजभर से हमारा कोई पारिवारिक रिश्ता नहीं है। बता दें कि उन्नाव की घटना के बाद इस वक्त योगी सरकार वैसे ही विपक्ष के निशाने पर है।

BJP leader threatened to fire police station in Varanasi

रोहनिया थाना क्षेत्र के अखरी चौकी घेराव प्रकरण में भाजपा नेता सहित 8 नामजद और 25 अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है । बता दें कि बीते दिनों क्षेत्र में लठिया गांव निवासी बाप-बेटे अशोक यादव औऱ राम जी यादव का विवाद 7 अप्रैल को हुआ था मामले अखरी पुलिस चौकी पहुंचा तो पुलिस ने इन दोनों के साथ ही गांव के राजनाथ यादव को भी पूछताछ के लिए चौकी पर बैठा लिया था। इसकी जानकारी होने पर पुलिस द्वारा बैठाए गये लोगों को छुड़ाने के लिए सुंदरपुर निवासी भाजपा नेता अपने कुछ साथियों के साथ रात करीब 9 बजे चौकी पर पहुंच गये और चौकी इंचार्ज अखरी त्रिवेणी सिंह से उलझ गए। भाजपा नेता धर्मेंद्र राजभर और उनके समर्थकों की पुलिस के साथ काफी गर्मागर्म बहस हुई जिसके बाद भाजपा नेता ने अपने साथ आये समर्थकों को लामबंद कर चौकी पर घेराव व प्रदर्शन किया। कुछ लोगों द्वारा पुलिस वालों के अलावा चौकी प्रभारी के साथ गाली-गलौज व दुर्व्यवहार किया गया और थाना फूंकने की धमकी दी गई।

ये भी पढ़ें- मेरठ: गन्ने के खेत में युवती का न्यूड वीडियो बनाकर किया वायरल

BJP leader threatened to fire police station in Varanasi

इस विवाद की सूचना के बाद तत्काल मौके पर पहुंचे रोहनिया थाना प्रभारी ने लोगों को समझा-बुझाकर किसी तरह मामला शांत कराया। भाजपा नेता की इस गुंडागर्दी की वजह से सोशल मीडिया सहित अखबारों में इस घटना को लेकर पार्टी और सरकार की खूब आलोचना की गई। इसी प्रकरण में पुलिस महकमा अपने विभाग के साथ खड़ा हुआ और रोहनियां थाना क्षेत्र के चौकी अखरी त्रिवेणी सिंह की तहरीर पर भाजपा नेता धर्मेंद्र राजभर श्री धर पांडेय राजेश कुमार दुबे राजकुमार प्रदीप राजभर रमेश राजभर लक्ष्मण राजभर भानु पटेल सहित 20 -25 अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच कर रही है।

ये भी पढ़ें- सेक्स पावर बढ़ाने के लिए लिया इंजेक्शन तो छोड़कर भागा प्रेमी, लड़की की मौत

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
BJP leader threatened to fire police station in Varanasi.

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.