• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

ISL 2022 : हैदराबाद पहली बार पहुंचा फाइनल में, गोलकीपर लक्ष्मीकांत बने जीत के हीरो

Google Oneindia News

गोवा : हैदराबाद एफसी ने इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के इतिहास में पहली बार फाइनल में प्रवेश कर लिया है। जहां, कोच मैनोलो मार्कुएज की टीम का सामना खिताब के लिए 20 मार्च को फाइनल मुकाबले में केरला ब्लास्टर्स एफसी से होगा। भले ही हैदराबाद बुधवार को आईएसएल 2021-22 के दूसरे सेमीफाइनल के दूसरे चरण में 0-1 से एटीके मोहन बगान के हाथों हार गई। लेकिन हैदराबाद एग्रीगेड गोल्स के आधार पर 3-2 से फाइनल में पहुंचने में कामयाब रही क्योंकि उसने दो चरणों वाले सेमीफाइनल के पहले मैच में बगान को 3-1 से हराया था और यही स्कोर दोनों टीमों के बीच निर्णायक साबित हुआ।

ISL 2022

यह भी पढ़ें- IPL 2022 : यो-यो टेस्ट में फेल हुए पृथ्वी शाॅ, जानिए दिल्ली के लिए अब खेल पाएंगे या नहीं

बैम्बोलिन स्थित जीएमसी एथलेटिक स्टेडियम में खेले गए इस मुकाबले में स्पेनिश कोच हुआन फेर्रांडो ने लगातार हमलें बोलने की रणनीति के साथ ग्रीन एंड मरून ब्रिगेड को उतारा। पहले हाफ में गोल नहीं होते देखते हुए उन्होंने अपने सभी डिफेंसिव खिलाड़ियों सेंटर-बैक संदेश झिंगन और डिफेंसिव मिडफील्डर कार्ल मैग्यू को हटा करके आक्रामक खिलाड़ियों को मैदान पर जरूर उतारा। लेकिन उनके तमाम मंसूबों के सामने गोलकीपर लक्ष्मीकांत कट्टीमनी अडिग दीवार बनकर सामने आए गए। हैदराबाद के गोलची ने बगान के ज्यादातर हमलों का सफलतापूर्वक बचाव किया और इस कारण उन्हें हीरो ऑफ द मैच अवार्ड से नवाजा गया।

मैच का एकमात्र 79वें मिनट में आया, जब फिजियन स्ट्राइकर रॉय कृष्णा ने गातिरोध तोड़ते हुए मोहन बगान को 1-0 से आगे कर दिया। बाएं छोर से बने तेज-तर्रार हमले में विंगर लिस्टन कोलासो हाफ-लाइन से अपनी तेज गति के साथ गेंद लेकर डी-बॉक्स में घुसे और फिर उन्होंने क्रॉस डाला, जिसे भारतीय मूल के स्ट्राइकर ने सेकेंड पोस्ट की तरफ दौड़ लगाते हुए दाहिने पैर से गोलजाल की दिशा दिखा दी और इस बार गोलकीपर लक्ष्मीकांत कट्टीमनी के पास बचाव को कोई अवसर नहीं था।

पहला हाफ गोलरहित रहा, क्योंकि एटीके मोहन बगान बेहद आक्रामक फुटबॉल खेलते हुए हैदराबाद एफसी की डिफेंस को लगातार दबाव में रखने के बावजूद गोल नहीं कर सकी। इस कारण गेंद ज्यादतर समय हैदराबाद के हाफ से लेकर डी-बॉक्स के पास-पास रही। इस दौरान बगान के स्ट्राइकर रॉय कृष्णा और विंगर्स लिस्टन कोलासो व प्रबीर दास ने बार-बार हैदराबाद की डिफेंस को परेशान किया और कई बार गोलकीपर लक्ष्मीकांत कट्टीमनी को बचाव करने के लिए मजबूर भी किया। लेकिन ग्रीन एंड मरून ब्रिगेड ने 12 शॉट भी लगाए लेकिन ये सभी तमाम प्रयास जाया गए और हाफ टाइम के समय दोनों टीमें 0-0 के स्कोर पर ब्रेक पर गईं।

Comments
English summary
ISL 2022: Hyderabad reached the final for the first time
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X