• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

WTC 2021-23: केपटाउन में मिली हार के बाद अंकतालिका में फिसली विराट सेना, जानें क्या है टीम का हाल

|
Google Oneindia News
IND vs SA
Photo Credit: BCCI/Twitter

नई दिल्ली। भारत और साउथ अफ्रीका की टीम के बीच खेली गई 3 मैचों की टेस्ट सीरीज में कम अनुभवी नजर आ रही साउथ अफ्रीका की टीम ने दुनिया की नंबर 1 टेस्ट टीम भारत को 2-1 से मात देकर एक बार फिर से गांधी-मंडेला सीरीज को अपने नाम कर लिया है। 3 मैचों की टेस्ट सीरीज में भारत को जीत का दावेदार माना जा रहा था और कहा जा रहा था कि भारतीय टीम पहली बार साउथ अफ्रीका को उसी के घर पर टेस्ट सीरीज में मात देकर इतिहास रच सकती है और यहां पर अब तक एक भी सीरीज न जीत पाने के सपने को पूरा कर सकती है। भारतीय टीम ने सेंचुरियन में खेले गये पहले टेस्ट मैच में 113 रनों की विशाल जीत के साथ सीरीज का आगाज किया जिसके बाद इन उम्मीदों को और भी ज्यादा बल मिल गया।

और पढ़ें: IND vs SA: 6 खिलाड़ी जो बने टेस्ट सीरीज में जीत के हीरो, कमजोर अफ्रीका ने मजबूत भारत को चटाई धूल

हालांकि जोहान्सबर्ग में जब साउथ अफ्रीकी टीम के युवा खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन कर अपनी टीम की वापसी करायी तो सभी हैरान रह गये। डीन एल्गर की कप्तानी वाली इस टीम ने चौंकाने का सिलसिला यहीं पर नहीं रोका बल्कि केपटाउन में भी 7 विकेट की बड़ी जीत हासिल कर सीरीज को 2-1 से अपने नाम किया। भारत और साउथ अफ्रीका के बीच खेली गई यह टेस्ट सीरीज आईसीसी के विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप 2021-23 का हिस्सा थी जिसमें हार के बाद भारतीय टीम को अंकतालिका में भी नुकसान उठाना पड़ा है।

और पढ़ें: IND vs SA: 3 गलतियां जो साउथ अफ्रीका दौरे पर भारत को पड़ी भारी, नहीं हुआ इतिहास रचने का सपना पूरा

चौथे पायदान पर खिसकी विराट सेना

चौथे पायदान पर खिसकी विराट सेना

विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप में इस सीरीज से पहले भारतीय टीम चौथे पायदान पर काबिज थी लेकिन सीरीज के बाद वह पांचवे पायदान पर खिसक गई है। इतना ही नहीं सीरीज से पहले भारतीय टीम का मैच में जीत प्रतिशत 58 के करीब था लेकिन सीरीज के बाद उसका यह प्रतिशत 49.07 हो गया है। विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के तहत सभी टीमों को घर और विदेशी सरजमीं पर 3-3 सीरीज खेलनी होती है, ऐसे में भारतीय टीम के लिये यह विदेशी सरजमीं पर दूसरी और ओवरऑल तीसरी सीरीज रही। इस दौरान भारतीय टीम अब तक 9 मैच खेल चुकी हैं जिसमें से उसे 3 मैचों में हार, 2 में ड्रॉ और सिर्फ 4 में ही जीत सामना करना पड़ा है।

अंकों में कटौती से भी हुआ नुकसान

अंकों में कटौती से भी हुआ नुकसान

टेस्ट चैम्पियनशिप में जीत हासिल करने वाली टीम को प्रति मैच 12 अंक जबकि ड्रॉ होने पर 4 अंक दिये जाते हैं, जिसे देखते हुए अंकतालिका में भारत के पास कुल 56 अंक होने चाहिये थे लेकिन स्लो ओवर रेट के चलते भारतीय टीम पर 3 अंक का जुर्माना लगा है जिसकी वजह से उसके जीत प्रतिशत में गिरावट देखने को मिली है। भारत ने इंग्लैंड के खिलाफ लॉर्डस में खेले गये दूसरे टेस्ट मैच के दौरान 2 अंक गंवाये थे तो वहीं पर साउथ अफ्रीका के खिलाफ सेंचुरियन टेस्ट में उसे एक अंक का नुकसान उठाना पड़ा। वहीं पर सीरीज के 3 में से 2 मैचों में जीत हासिल करने वाली साउथ अफ्रीका की टीम 24 अंक और 66.66 के जीत प्रतिशत के साथ चौथे पायदान पर पहुंच गई है।

जानें टॉप पर काबिज है कौन सी टीम

जानें टॉप पर काबिज है कौन सी टीम

विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप में फिलहाल श्रीलंका की टीम 24 अंक और 100 प्रतिशत जीत के साथ पहले पायदान पर काबिज है तो वहीं पर ऑस्ट्रेलिया की टीम ने एशेज में मिली 3 जीत और एक ड्रॉ के दम पर 40 अंक और 83.33 प्रतिशत जीत के साथ दूसरे पायदान पर कब्जा जमाया हुआ है। टेस्ट चैम्पियनशिप की फेहरिस्त में पाकिस्तान की टीम ने दो सीरीज में 3 जीत और एक हार के साथ 75 प्रतिशत अंक अपने नाम किये हैं तीसरे पायदान पर कब्जा जमाया हुआ है।

English summary
WTC 2021-23 after historic defeat against South Africa Where India stands in ICC World Championship points table
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X