• search
शामली न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

अविवाहित बताकर दरोगा ने रचाई महिला सिपाही से शादी, पहली पत्नी का फोन आने पर खुला राज

|

शामली। यूपी पुलिस में तैनात एक दरोगा ने खुद को अविवाहित बताकर एक महिला सिपाही के साथ धोखे से शादी की। यह बात जब महिला सिपाही को पता चली तो उसने आरोपी दरोगा के खिलाफ केस दर्ज करा दिया। पीड़िता ने दरोगा के खिलाफ धोखे से शादी करने और यौन शोषण किये जाने का आरोप लगाते हुए केस दर्ज कराया है। इस मामले में तीन महीने पहले दरोगा को निलंबित किया गया था जो हाल ही में फिर से बहाल हुआ है। अब पुलिस इस मामले में कोर्ट के आदेश पर दर्ज हुए मुकदमे की जांच पड़ताल के बाद कार्रवाई करने की बात कह रही है।

मंदिर में की थी शादी

मंदिर में की थी शादी

बिजनौर जिले की रहने वाली महिला सिपाही की ओर से दर्ज कराए गए मुदकमे में कहा गया कि लविंक त्यागी नाम के दरोगा ने अपनी सहारनपुर पोस्टिंग के दौरान खुद को अविवाहित बताकर उससे 2015 जुलाई में मंदिर में शादी की। शादी के बाद जब वह गर्भवती हुई तो आरोपी दरोगा ने उस पर गर्भपात कराने का दबाव बनाया, लेकिन वह गर्भपात कराने के लिए तैयार नहीं हुई। बाद में जब उसकी डिलीवरी हुई तो उसे बताया गया कि उसे मृत बच्चा पैदा हुआ था।

पहली पत्नी का फोन आने पर खुला भेद

पहली पत्नी का फोन आने पर खुला भेद

पीड़िता का कहना है कि एक दिन आरोपी का फोन घर पर रह गया, फोन पर एक महिला की कॉल आई और उसने खुद को दरोगा की पत्नी बताया तब उसे पता चला कि दरोगा ने उसके साथ धोखाधड़ी कर शादी की। पहली पत्नी से दरोगा के दो बच्चे बताए गए हैं। पीड़िता का कहना है कि इस दौरान वह दोबारा गर्भवती हुई तो दरोगा के बदले व्यवहार को देखकर वह मातृत्व अवकाश लेकर अपने मायके चली गई। वर्ष 2017 में उसने एक बच्चे को जन्म दिया।

आरोपी दरोगा दे रहा है धमकी

आरोपी दरोगा दे रहा है धमकी

इस दौरान उसकी पोस्टिंग शामली जनपद में हो गई। पीड़िता का आरोप है कि अब दरोगा खुद और अन्य लोगों से फोन कराकर उसे व उसके बच्चे को जान से मारने की धमकी दे रहा है। इस पूरे मामले की जांच पूर्व में एसपी शामली ने सीओ कैराना को सौंपी थी। जांच में दरोगा पर लगे आरोप सही पाए जाने पर उसे 21 अप्रैल 2019 को निलंबित कर दिया गया था, लेकिन तब आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज नहीं किया गया था। पीड़िता का कहना है कि 30 जून को दरोगा ने उसे फिर धमकी दी और कहा कि उसका निलंबन आदेश निरस्त हो गया है और वह अब डयूटी पर है। पीड़िता ने इसकी शिकायत पुलिस से की लेकिन कोई कार्रवाई न होने पर उसने कोर्ट की शरण ली।

क्या कहना है थाना प्रभारी का

क्या कहना है थाना प्रभारी का

कोतवाली प्रभारी सुभाष सिंह राठौर के मुताबिक कोर्ट के आदेश पर महिला सिपाही की तरफ से दरोगा लविंक त्यागी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है। जांच के आधार पर अगली कार्रवाई की जाएगी।

    शामली : कांवडिए के पैर दबाते नजर आए एसपी शामली

    ये भी पढ़ें:- रामपुर पुलिस ने आजम खान और उनके MLA बेटे से कहा- सुरक्षा साथ लेकर चलें

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    FIR register against police inspector
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X