• search
रांची न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

रांचीः तीन मिनट देरी से पहुंची छात्रा तो मिली साल भर की सजा!, पिता से लेकर नेता तक ने प्रिंसिपल के पकड़े पैर

|

रांची। झारखंड की राजधानी रांच में एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है, जहां एक छात्रा तीन मिनट की देरी से पहुंची तो प्रिंसिपल ने उसे परीक्षा देने से मना कर दिया। यह घटना कडरू स्थित डीएवी कपिलदेव स्कूल का है। करीब डेढ़ घंटे तक छात्रा और उसके पिता स्कूल के मेनगेट पर खड़े रहे इस दौरान पिता ने प्रिंसिपल के पैर तक पकड़ लिए लेकिन वह नहीं मानें। अरगोड़ा सीओ ने भी प्रिंसिपल एमके सिन्हा से बात की। लेकिन प्रिंसिपल अपने फैसले से टस से मस नहीं हुए।

jharkhand ranchi student not allowed to give exam for three minutes delay

पीड़िता धर्वा स्थित सरस्वती शिशु विद्या मंदिर में पढ़ती है और 12वीं की परीक्षा देने डीएवी कपिलदेव स्कूल पहुंची थी। सरस्वती शिशु विद्या मंदिर का परीक्षा केंद्र डीएवी कपिलदेव को बनाया गया है। खबर सुनकर जेएमएम के स्थानीय नेता भी स्कूल पहुंचे और छात्रा को एंट्री दिलाने की कोशिश की। लेकिन सफल नहीं हुए। जब सारी कोशिशें नाकाम हो गई तो छात्रा और पिता की आंखों में आंसू छलक गए। छात्रा फूट-फूट कर रोते हुए वापस घर लौटी।

इस घटना से डीएवी कपिलदेव के छात्रों में नाराजगी है। छात्रों ने स्कूल प्रबंधन के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। छात्रों को कहना है कि तीन मिनट की देरी के चलते किसी को परीक्षा में न बैठने देना अमानवीयता है। उधर, प्रिंसिपल ने कहा कि नियम के मुताबिक 10 बजे तक ही परीक्षा केन्द्र में एंट्री मिलनी है। लेकिन छात्रा देर से पहुंची। लिहाजा परीक्षा नहीं दे पाई।

रांची: पुलिसकर्मी की पत्नी, बेटी और बेटे का घर में पड़ा मिला शव, जांच में जुटी पुलिस

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
jharkhand ranchi student not allowed to give exam for three minutes delay
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X