• search
राजस्थान न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

Hari Bhakar : घायल होने के बाद भी PAK फौज पर ग्रेनेड बरसाता रहा राजस्थान का 21 वर्षीय फौजी

|

Nagaur News, नागौर। पुलवामा हमला के बाद भी पाक अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। शनिवार को पाकिस्तान ने जम्मू कश्मीर के पूंछ इलाके में एक बार फिर सीज फायर का उल्लंघन किया और जबरदस्त गोलीबारी की, जिसका जवाब देते हुए राजस्थान का सपूत हरि भाकर (Hari Bhakar) शहीद हो गया।

Shaheed Hari Bhakar

Shaheed Hari Bhakar

भारतीय सेना की 4 ग्रेनेडियर में तैनात 21 वर्षीय Hari Ram Bhakar मूलरूप से राजस्थान के नागौर जिले की मकराना के जसूरी गांव के रहने वाले थे। सोमवार को पैतृक गांव में उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। पार्थिव देह रविवार रात सेना के विशेष वाहन से पैतृक गांव लाई गई। पार्थिह देह रात को गांव के आईटी केन्द्र में रखी गई। सोमवार सुबह पार्थिव देह घर पहुंची। इस दौरान बहादुर फौजी बेटे के अंतिम दर्शन करने और उन्हें आखिरी सैल्यूट करने के लिए पूरा नागौर उमड़ पड़ा। आईटी केन्द्र से लेकर शहीद के घर तक लोगों की कतारें लग गईं।

चार सैनिकों को उतारा मौत के घाट

चार सैनिकों को उतारा मौत के घाट

शहीद हरिराम की पार्थिव देह लेकर आए 4 ग्रेनेडियर के अधिकारी नायब सूबेदार चेनाराम ने बताया कि पाकिस्तान की तरफ से सीज फायर का उलंघन करके भारतीय सीमा में फायरिंग की गई। इस दौरान शहीद हरिराम ने पाकिस्तानी गोलीबारी का जवाब देते हुए 40 से ज्यादा ग्रेनेड दागे, जिससे पाकिस्तान के बंकर नष्ट करने के साथ-साथ चार सैनिकों को भी जान से हाथ धोना पड़ा।

पाकिस्तानी गोलीबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया

इसी दौरान पाकिस्तान की तरफ से दागे गए गोले से हरिराम पर हमला हुआ और जिसमें वे बुरी तरह घायल हो गए। इसके बावजूद साहस का परिचय देते हुए पाकिस्तानी गोलीबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया। उन्हें गभीर अवस्था में सैन्य अस्पताल लाया गया, जहां वे वीरगति को प्राप्त हुए।

15 फरवरी को लौटे थे ड्यूटी पर

15 फरवरी को लौटे थे ड्यूटी पर

जानकारी के अनुसार भाकर गत 15 फरवरी को ही गांव से वापस ड्यूटी पर गए थे। भाकर अपनी छोटी बहन की शादी में गांव आए थे। हरिराम भाकर और हरेद्र दो जुड़वा भाई थे। दोनों ही भाई भारतीय सेना में हैं। बड़े हरिराम थे और छोटा हरेन्द्र भाकर है। शहीद हरी भाकर के पिता पदमाराम भाकर नजदीकी जूसरिया ग्राम पंचायत में पंचायत सहायक के पद पर कार्यरत हैं। 28 मार्च को शहीद हरीराम भाकर के परिवार में एक और शादी थी।

राजस्थान: कांस्टेबल बहन ने भाई को WhatsApp पर भेजा सुसाइड नोट, मैं जीना चाहती हूं लेकिन...

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Nagaur jawan Hariram bhakar martyr in pakistani firing at poonch
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X