विवादों में घिरे बस्‍तर के आईजी एसआरपी कल्‍लूरी को मेडिकल लीव पर भेजा गया

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

रायपुर। छत्‍तीसगढ़ के आदिवासी इलाके दंतेवाड़ा में नए डीआईजी पी सुंदर राज के पद संभालने के एक दिन बाद ही विवादों में रहने वाले बस्‍तर के आईजी एसआरपी कल्‍लूरी को मेडिकल लीव पर भेज दिया गया है।  

विवादों में घिरे बस्‍तर के आईजी एसआरपी कल्‍लूरी को मेडिकल लीव पर भेजा गया

राजभवन की तरफ पी सुंदर राज को बुधवार को बस्‍तर के सभी सात जिलों का प्रभार देते हुए डीआईजी दंतेवाड़ा रेंज बनया गया है। बस्‍तर के आईजी एसआरपी कल्‍लूरी के ऊपर आरोप था कि वो लगातार मानवाधिकारों का उल्‍लंघन कर रहे हैं। साथ ही पत्रकारों, रिसर्चर, आंदोलनकारियों के साथ खराब व्‍यवहार करने का आरोप है। आपको बताते चले कि छत्‍तीसगढ में 16 आदिवासी महिलाओं के संग बलात्‍कार का दोषी छत्‍तीसगढ़ पुलिस को पाए जाने के बाद से ही कल्‍लूरी के ऊपर दबाव बढ़ गया था। राष्‍ट्रीय मानवाधिकार आयोग में 30 जनवरी को छत्‍तीसगढ़ के डीजीपी और मुख्‍य सचिव भी कल्‍लूरी के विवादों को लेकर पेश हुए थे।

पिछले साल नवंबर में कल्‍लूरी को एनएचआरसी ने प्रोफेसर नंदिनी सुंदर और अर्चना विजय के खिलाफ हत्‍या के मामले में एफआईआर दर्ज करने पर समन जारी किया था। पर कल्‍लूरी अपने खराब स्‍वास्‍थ्‍य का हवाला देकर मानवाधिकार आयोग में हाजिर नहीं हुए थे। बताया जा रहा है कि बहुत ज्‍यादा खराब स्‍वास्‍थ्‍य का हलावा देकर कल्‍लूरी को विशाखापट्टनम के एक अस्‍पताल में इलाज के लिए भेज दिया गया है। आपको बताते चले कि पिछले साल जब जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी में छात्रों का प्रदर्शन चल रहा था तब भी कल्‍लूरी ने दावा किया था कि आदिवासी आंदोलनकारी सोनी सोरी के ऊपर हमले की साजिश का हिस्‍सा जेएनयू का छात्र उमर खालिद हो सकता है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Bastar IG SRP Kalluri to go on medical leave
Please Wait while comments are loading...