• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

पाकिस्‍तान: जैकोबाबाद में महक का अपहरण करके जबरन कुबूलावाया इस्‍लाम, हिंदूओं ने PM इमरान और जनरल बाजवा को घेरा

|

लाहौर। पाकिस्‍तान के जैकोबाबाद में हिंदू समुदाय बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन कर रहा है। पाकिस्‍तान के सिंध प्रांत में आने वाले जैकोबाबाद में एक नाबालिग लड़की के अपहरण और फिर जबरन धर्मांतरण के बाद उसकी शादी को लेकर यह प्रदर्शन पिछले कुछ दिनों से जारी है। यह नया मामला इमरान खान सरकार के लिए नई चुनौती बन गया है। पाक पीएम इमरान ने पिछले दिनों दावा किया था कि वह देश में अल्‍पसंख्यकों की सुरक्षा सुनिश्चित कर रही है।

 घर से गायब हो गई थी महक

घर से गायब हो गई थी महक

सिंध के जैकोबाबाद में रहने वाली महक कुमारी बुधवार से अपने घर से गायब थीं। इसके बाद उनका एक वीडियो सोशल मीडिया पर आसा जिसमें उन्‍होंने खुलासा किया अब वह इस्‍लाम कुबूल कर चुकी हैं और उनकी शादी एक मुसलमान लड़के अली रजा के साथ हो चुकी है। उनका एक नया वीडियो भी सामने आया है जिसमें वह अली रजा के साथ बैठी हुई नजर आ रही हैं। वीडियो में उन्‍हें कहते हुए सुना जा सकता है कि अब उनकी शादी रजा के साथ हो चुकी है और सब-कुछ उनकी मर्जी पर हुआ है।

इस्‍लाम कुबूल करने के बाद नाम हुआ अलिजा

इस्‍लाम कुबूल करने के बाद नाम हुआ अलिजा

महक कुमारी का नाम बदलकर अलिजा हो गया है। अलिजा बनकर महक कह रही हैं, 'मैंने अपनी मर्जी से इस्‍लाम कुबूला है और अब मेरा मुसलमान नाम अलिजा है। मैंने अमरोत शरीफ की दरगाह पर इस्‍लाम कुबूला है और फिर वहीं रजा के साथ शादी की है।' वीडियो में महक का कहना है कि उनकी उम्र 18 साल है और अब अपने और अपने पति के लिए उन्‍हें सुरक्षा चाहिए। उन्‍होंने सिंध प्रांत के सुकेर जिले के स्‍थानीय अदालत में केस भी दर्ज कराया है। उन्‍होंने कहा है कि धर्मांतरण के बाद उन्‍हें अपने माता-पिता और हिंदू समुदाय से सुरक्षा चाहिए।

इमरान और बाजवा से की गई अपील

कुमारी ने कहा, 'मैं 18 साल की हूं। मुझे अपने माता-पिता और हिंदू समुदाय से सुरक्षा चाहिए। मैंने और मेरे पति रजा ने सुकर जिले में इसी वजह से केस भी दर्ज कराया है।' कुमारी का वीडियो आने से पहले हिंदू समुदाय की ओर से इस बात पर खासी चिंता जताई गई थी कि उनका अपहरण करके उन्‍हें जबरन इस्‍लाम कुबूलवाया गया है। इसके बाद समुदाय की तरफ से प्रधानमंत्री इमरान खान और आर्मी चीफ जनरल कमर जावेद बाजवा से अपील की गई थी कि वह महक के अलावा समुदाय की बाकी लड़कियों की सुरक्षा सुनिश्चित करें। साथ ही समुदाय ने धार्मिक आजादी की मांग भी की थी।

50 लड़कियों हो चुकी हैं गायब

50 लड़कियों हो चुकी हैं गायब

हिंदू समुदाय का कहना है कि महक की उम्र बस 15 साल हैं और वह नौंवी कक्षा में पढ़ती है। समुदाय के एक प्रतिनिधि ने कहा, 'हम महक को ननकी कुमारी कहकर बुलाते हैं। उसकी उम्र 15 साल है। आज उसे गए हुए कई दिन हो गए हैं और हम उसे लेकर चिंतित हैं। रोजाना हमारी लड़कियों का अपहरण कर लिया जाता है और उन्‍हें जबरन इस्‍लाम कुबूल करवाया जाता है। ऐसा करके वह हमें प्रताड़‍ित कर रहे हैं।' इस प्रतिनिधि की मानें तो एक लिस्‍ट में उन 50 लड़कियों के नाम हैं जिन्‍हें पिछले कई वर्षों में अपहरण करके ले जाया गया और फिर उन्‍हें जबरन इस्‍लाम कुबूल करवाया गया है।

English summary
Pakistan: Hindu community in Jacobabad protesting against the forced conversion of Mehak Kumari and forced marriage of a minor.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X