• search
नोएडा न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

गौरव चंदेल मर्डर केस: STF ने 11 दिन बाद बरामद किया मोबाइल फोन, कार के बाहर मारी थी गोली

|

नोएडा। बहुचर्चित गौरव चंदेल मर्डर केस मामले में एसटीएफ को बड़ी सफलता हाथ लगी है। एसटीएफ ने गुरुवार को गौरव चंदेल का मोबाइल फोन बरामद कर लिया है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक, हत्या के बाद राहगीर को गौरव चंदेल का मोबाइल फोन सड़क किनारे पड़ा मिला था। इससे पहले गुरुवार को चंदेल की किआ सेल्टोस कार लावारिस हालात में गाजियाबाद से बरामद हुई थी।

    Gaurav Chandel हत्याकांड: UP Police को मिली बड़ी सफलता, Ghaziabad से बरामद की कार | वनइंडिया हिंदी
    चंदेल का मोबाइल फोन हुआ बरामद

    चंदेल का मोबाइल फोन हुआ बरामद

    मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, फॉरेंसिक टीम की जांच में पता चला है कि बदमाशों ने गौरव चंदेल को कार से बाहर गोली मारी थी। क्योंकि कार के अंदर खून के निशान नहीं मिले हैं। हालांकि फॉरेंसिक टीम को खोखा जरूर मिला है। बदमाशों ने पिस्टल की .32 बोर की गोली मारकर गौरव की हत्या की थी। हांलाकि इस हत्याकांड के 12 दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस के हाथ अभी तक खाली है। न्यूज़ 18 की खबर के मुताबिक, एसटीएफ ने गौरव चंदेल का मोबाइल फोन बरामद कर लिया है। गौरव के हत्यारों ने उसका मोबाइल गौड़ सिटी के पास ही फेंक दिया था। उस मोबाइल को कोई राहगीर इस्तेमाल कर रहा था जिसे पुलिस ने बरामद कर लिया है।

    आकाश नगर इलाके के हो सकते हैं बदमाश

    आकाश नगर इलाके के हो सकते हैं बदमाश

    बता दें कि पुलिस ने नोएडा, गाजिबाद से लेकर आसपास के करीब एक दर्जन गिरोहों की पड़ताल के बाद तीन को शॉर्ट लिस्ट किया था। सेल्टॉस कार बरामद होने के बाद पुलिस को कुछ सुराग मिले हैं और मसूरी के आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज की जांच की गई है। पुलिस ने डासना, मसूरी में कई जगह दबिश दे रही है। पुलिस के अनुसार, मंगलवार देर रात को लूटी गई सेल्टॉस कार मसूरी थाना के आकाश नगर में मिली थी। इसके बाद से पुलिस की जांच में फिर से तेजी आई और मसूरी, डासना के आसपास मुख्य मार्ग के अलावा अन्य मार्गों पर लगे सीसीटीवी फुटेज की जांच की। जिस स्थान पर सेल्टॉस कार मिली बदमाशों ने यह स्थान इस कारण चुना क्योंकि यहां अंधेरा था। आशंका जताई जा रही है कि बदमाश इसी इलाके के हो सकते हैं।

    सीसीटीवी में कैद हुई वारदात

    सीसीटीवी में कैद हुई वारदात

    पुलिस को जिस जगह सेल्टॉस गाड़ी खड़ी मिली है, वहां से कुछ दूरी पर सीसीटीवी लगा है। हालांकि जहां सेल्टॉस खड़ी की गई, वहां अंधेरा होने की वजह से यह पता नहीं चल पाया कि सेल्टॉस में कितने लोग सवार थे। ये लोग टियागो कार से फरार हो गए थे। सीसीटीवी फुटेज में एक संदिग्ध बाइक भी दिखी है, हालांकि इसका कनेक्शन अब तक इस केस से नहीं जुड़ पाया है। फॉरेंसिक टीम ने सेल्टॉस से फिंगरप्रिंट उठाए हैं, जिनकी जांच की जा रही है।

    English summary
    Gaurav Chandel murder case: STF recovered mobile phone
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X