• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

'शराब तस्करों, डकैतों की हिरासत पर कड़े कानून की जरूरत...', केंद्र से बोले दिल्ली LG Vk saxena

एलजी कार्यालय ने कहा कि गृह मंत्रालय इस संबंध में फैसला लेगा।
Google Oneindia News

दिल्ली के उपराज्यपाल वीके सक्सेना ने शुक्रवार को दिल्ली पुलिस के प्रस्ताव को केंद्रीय गृह मंत्रालय को खतरनाक गतिविधियों की रोकथाम अधिनियम, 1986 को दिल्ली के एनसीटी तक संशोधित करने के लिए मंजूरी दे दी है। उपराज्यपाल कार्यालय के अनुसार, सक्सेना ने केंद्र शासित प्रदेशों (कानून) अधिनियम, 1950 की धारा 2 के तहत अधिसूचना जारी करने के लिए दिल्ली पुलिस के प्रस्ताव को गृह मंत्रालय को मंजूरी दे दी है और अग्रेषित कर दिया है।

Delhi LG asks Centre to extend to Delhi law on detention of bootleggers and dacoits

उपराज्यपाल कार्यालय ने कहा "ये अधिनियम बूटलेगर, नशीली दवाओं के अपराधियों, अनैतिक यातायात अपराधियों, भूमि हड़पने वालों, खाद्य अपमिश्रण अपराधियों, नकली दस्तावेज़ अपराधियों, अनुसूचित वस्तु अपराधियों, गेमिंग अपराधियों, यौन अपराधियों, विस्फोटक पदार्थ अपराधियों, हथियार अपराधियों, साइबर अपराध की खतरनाक गतिविधियों की रोकथाम के लिए लागू है। एलजी कार्यालय ने कहा कि गृह मंत्रालय इस संबंध में फैसला लेगा।

MCD Election 2022: दिल्ली में 4 दिसंबर को कब से होगी वोटिंग, मेट्रो कितने बजे से चलेगी ? पूरी डिटेल देखिएMCD Election 2022: दिल्ली में 4 दिसंबर को कब से होगी वोटिंग, मेट्रो कितने बजे से चलेगी ? पूरी डिटेल देखिए

अधिकारियों के मुताबिक, वीके सक्सेना ने तेलंगाना खतरनाक गतिविधियों की रोकथाम अधिनियम, 1986 का विस्तार करने के वास्ते केंद्र शासित प्रदेश (कानून) अधिनियम, 1950 की धारा 2 के तहत अधिसूचना जारी करने के लिए दिल्ली पुलिस के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है और इसे गृह मंत्रालय को भेज दिया है। उन्होंने बताया कि गृह मंत्रालय इस संबंध में फैसला लेगा।

Comments
English summary
Delhi LG asks Centre to extend to Delhi law on detention of bootleggers and dacoits
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X