• search
मुजफ्फरनगर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

नवाजुद्दीन सिद्दीकी परिवार संग पहुंचे मुजफ्फरनगर, 14 दिनों के लिए होम क्वारंटाइन

|

मुजफ्फरनगर। बॉलीवुड एक्टर नवाजुद्दीन सिद्दीकी के अपने पूरे परिवार के साथ मुंबई से मुजफ्फरनगर पहुंचने की खबरें हैं। बताया जा रहा है कि नवाजुद्दीन मुंबई से मुजफ्फरनगर पहुंचते ही पूरे परिवार के साथ होम क्वारंटाइन हो गए हैं।मुजफ्फरनगर के एडिशनल डिस्ट्रिक मजिस्ट्रेट ने खबर की पुष्टि करते हुए बताया कि नवाजुद्दीन सिद्दीकी हाल ही में महाराष्ट्र से आए हैं। उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई थी। प्रोटोकॉल के मुताबिक, नवाजुद्दीन और उनके परिवार के चार सदस्यों को 14 दिनों के लिए होम क्वारंटाइन किया गया है।

परिवार के साथ पुश्तैनी घर मुजफ्फरनगर पहुंचे नवाजुद्दीन

परिवार के साथ पुश्तैनी घर मुजफ्फरनगर पहुंचे नवाजुद्दीन

दरअसल, नवाजुद्दीन सिद्दीकी को लेकर कई मीडिया रिपोर्ट्स ये दावा किया गया कि वो लॉकडाउन के दौरान मुंबई से रवाना होकर अपने पुश्तैनी घर मुजफ्फरनगर पहुंच चुके हैं। बताया जा रहा है कि वो 11 मई को अपनी मां, भाई और भाभी के साथ मुंबई से आए हैं। इसके अलावा खबरें ऐसी भी हैं कि वो महाराष्ट्र सरकार से अनुमति पत्र लेकर निजी वाहन से सड़क मार्ग के जरिए घर लौटे हैं और रास्ते में उन्हें जगह-जगह रोक कर थर्मल स्‍कैनिंग जैसे जरूरी एहतियात भी लिए गए।

14 दिनों के लिए होम क्वारंटाइन

14 दिनों के लिए होम क्वारंटाइन

नवाजुद्दीन के मुजफ्फरनगर पहुंचते ही सभी को प्रशासन ने 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन किया है। बताया गया कि कोरोना संक्रमण टेस्ट परिवार के सभी सदस्यों ने मुंबई में ही करा लिए थे। सभी की रिपोर्ट निगेटिव है। रास्ते में कुछ स्थानों पर स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों और पुलिस को मेडिकल रिपोर्ट भी दिखानी पड़ी। इसके अलावा जब वो घर पहुंचे तो स्थानीय पुलिस व स्वास्थ्य विभाग ने भी सभी की जांच के बाद उन्हें फिलहाल 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन में रखा है।

तबलीगी जमान पर भड़के थे नवाजुद्दीन

तबलीगी जमान पर भड़के थे नवाजुद्दीन

बता दें, दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित तबलीगी जमात के मरकज मामले पर नवाजुद्दीन काफी भड़के थे। एक वेब पोर्टल से बातचीत में नवाजुद्दीन ने कहा कि अगर सरकार ने लॉकडाउन के लिए कहा है तो हर किसी को इसे पूरे सम्मान के साथ फॉलो करना चाहिए। जब सरकार ने लॉकडाउन के लिए कहा है तो इसका मतलब है कि लॉकडाउन। नवाज ने यह भी कहा था, 'इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है कि आप किस धर्म से ताल्लुक रखते हैं। सरकार के किए गए लॉकडाउन का उल्लंघन करके आप न सिर्फ अपनी खुद की जिंदगी खतरे में डाल रहे हैं बल्कि आप कई और लोगों की भी जिंदगी को खतरे में डाल रहे हैं।'

COVID-19: यूपी में अबतक 1805 एक्टिव केस, 2444 मरीज हुए स्वस्थ

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Nawazuddin Siddiqui home quarantine with family in muzaffarnagar
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X