• search
मुजफ्फरनगर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

हाथरस में जयंत चौधरी पर लाठीचार्ज के विरोध में लोकतंत्र बचाओ महापंचायत, कांग्रेस और सपा का मिला साथ

|

मुजफ्फरनगर। हाथरस में रालोद के उपाध्यक्ष जयंत चौधरी पर लाठीचार्ज के विरोध में राष्ट्रीय लोकदल की लोकतंत्र बचाओ महापंचायत का आयोजन उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में किया गया। इसमें शामिल होने के लिए बड़ी संख्या में किसान और रालोद कार्यकर्ता जीआईसी के मैदान में ट्रैक्टर ट्रॉलियों, बसों और अन्य वाहनों से पहुंचे। महापंचायत में जनपद के अलावे हरियाणा, राजस्थान समेत और भी दूसरे जनपदों से राष्ट्रीय लोकदल के समर्थकों का जनसमूह उमड़ पड़ा। जिला प्रशासन और पुलिस के साथ पीएसी, जनपद के सभी चौराहों पर मुस्तैद रही। कोरोना काल में हुई इस महापंचायत में कोई सोशल डिस्टेंसिंग नहीं दिखी और कई लोगों के चेहरे पर मास्क नहीं था।

    हाथरस में जयंत चौधरी पर लाठीचार्ज के विरोध में लोकतंत्र बचाओ महापंचायत, कांग्रेस और सपा का मिला साथ

    Mahapanchayat to protest lathicharge on Jayant Chaudhary in Hathras

    महापंचायत में उमड़ा जनसमूह

    दोपहर लगभग 1 बजे जयंत चौधरी सड़क मार्ग से दिल्ली से मुज़फ्फरनगर महापंचायत में पहुंचे। इस लोकतंत्र बचाओ पंचायत को कांग्रेस पार्टी के साथ-साथ समाजवादी पार्टी, भारतीय किसान यूनियन और 36 खाप मुखियाओं का भी समर्थन मिला। जयंत चौधरी के साथ मंच पर हरियाण से कांग्रेस नेता दीपेन्द्र हुड्डा, कांग्रेस नेता इमरान मसूद, कांग्रेस के पूर्व मंत्री हरेंद्र मलिक, कांग्रेस के उत्तर प्रदेश उपाध्यक्ष पंकज मलिक, बालियान खाप के चौधरी, भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत, समाजवादी पार्टी के जिला अध्यक्ष प्रमोद त्यागी के अलावा रालोद के कई बड़े नेता मौजूद रहे।

    Mahapanchayat to protest lathicharge on Jayant Chaudhary in Hathras

    जयंत चौधरी ने कहा- भाजपा सरकार में लोकतंत्र की हत्या

    मंच से जयंत चौधरी ने हाथों में लाठी लेकर अपने समर्थकों का अभिवादन किया। जयंत चौधरी ने अपने संबोधन में कहा कि भाजपा सरकार में किसानों और मजदूरों की आवाज को दबाया जा रहा है। इस सरकार में हमारी बहन बेटी सुरक्षित नहीं है। हाथरस में हमारी बहन के साथ दरिंदगी के बाद हत्या हुई। हम लोग वहां पीड़ित परिवार का दुःख बांटने गए तो हम पर लाठीचार्ज कराया गया। ये लोकतंत्र की हत्या नहीं तो और क्या है? केन्द्र सरकार ने किसानों के विरुद्ध संसद में कृषि बिल पास कर दिया लेकिन इस बिल से किसानों को कोई फायदा नहीं होने वाला। बिल से पहले किसानों का गन्ना भुगतान कराया जाता जिसकी किसानों को बहुत आवश्यकता है। किसान भूखा मर रहा है, बीज खरीदने को पैसे नहीं हैं, बच्चो की पढ़ाई के लिए पैसे नही हैं। ऊपर से ये कृषि बिल, इससे साफ जाहिर होता है कि योगी और मोदी किसानों को तबाह ओर बर्बाद कर देना चाहते हैं।

    Mahapanchayat to protest lathicharge on Jayant Chaudhary in Hathras

    कांग्रेस ने कहा- हम इसलिए महापंचायत में आए हैं...

    इस लोकतंत्र बचाओ महापंचायत में खास बात ये रही कि इसको समर्थन तो कई दलों ने दिया लेकिन जब कांग्रेस के इमरान मसूद ओर दीपेंद्र हुड्डा से पूछा गया कि क्या आने वाले 2022 के चुनाव में रालोद कांग्रेस ओर सपा का गठबंधन होगा तो उनका कहना था कि कांग्रेस एक बड़ी पार्टी है, उसे किसी के साथ गठबंधन की जरूरत नही है। आज हमने किसानों के हक के लिए आवाज उठाई है साथ ही योगी सरकार में जिस तरह अपराध बढ़ रहा है और मजलूम लोगों के हक में आवाज उठाने वालों पर लाठीचार्ज किया जा रहा है, वो लोकतंत्र की हत्या है इसलिए हम आज जयंत चौधरी पर हुए लाठीचार्ज की निंदा करते है।

    हाथरस पहुंचे जयंत चौधरी पर लाठीचार्ज, बोलीं प्रियंका गांधी-'यूपी सरकार को जनता याद दिलाएगी'

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Mahapanchayat to protest lathicharge on Jayant Chaudhary in Hathras
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X